विजय माल्‍या केस : CBI ने लंदन कोर्ट को बताया भारतीय जेल में मिलने वाली सुविधाएं

सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि माल्या को वहां साफ बिस्तर, कंबल और तकिया भी दिया जाएगा।

  |   Updated On : August 25, 2018 02:46 PM
भारत के भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या

भारत के भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या

नई दिल्ली:  

शराब कारोबारी और भारत में बैंको का पैसा लेकर भागे विजय माल्या के प्रत्यर्पण केस में सीबीआई ने लंदन की अदालत में भारतीय जेल का विडियो जमा कराया है। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार यह वीडियो मुंबई की ऑर्थर रोड जेल के 12 नंबर बैरक का है। इसमें साफ देखा जा सकता है कि बैरक में पर्याप्त रोशनी है। यह बैरक इतना बड़ा है कि माल्या इसमें टहल भी सकते हैं। बैरक में नहाने की जगह, एक पर्सनल टॉयलेट और एक टेलिविजन सेट भी है।

सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि माल्या को वहां साफ बिस्तर, कंबल और तकिया भी दिया जाएगा।

गौरतलब है कि ब्रिटेन की अदालत ने 31 जुलाई को भारतीय अधिकारियों से उस बैरक का विडियो बनाकर भेजने को कहा था जिसमें माल्या को रखने की योजना है। एक अधिकारी ने बताया कि माल्या को इनके अलावा दूसरे कैदियों की तरह लाइब्रेरी की सुविधा भी दी जाएगी।

इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किस प्रकार अपने ब्रिटिश समकक्ष थेरेसा मे से कहा था कि उनकी अदालतों ने भगोड़े उद्योगपति विजय माल्या के मामले में भारत की जेलों की दशा पर गलत सवाल उठाया था क्योंकि उन्हीं जेलों में ब्रिटिश सरकार ने महात्मा गांधी और जवाहर लाल नेहरू जैसे भारत के बड़े नेताओं को कैद रखा था।

और पढ़ें: विजय माल्या को ब्रिटेन की कोर्ट से राहत, अब 12 सितंबर को होगी प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई

हाल ही में हुए राष्ट्रमंडल सम्मेलन में मोदी द्वारा मे को कही गई बातों का जिक्र करते हुए सुषमा ने कहा, 'मैं बताना चाहती हूं कि ये वही कारागृह हैं जहां आपने महात्मा गांधी, पंडित नेहरू और भारत के अन्य बड़े नेताओं को रखा था। इसलिए आपकी अदालतों द्वारा उन कारागृहों पर सवाल उठाना ठीक नहीं है।'

मोदी सरकार के चार साल की उपलब्धियों पर प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए शराब कारोबारी को वापस लाने में भारत सरकार के प्रयास के मसले पर सुषमा स्वराज ने कहा, 'हमने यूके से प्रत्यर्पण की मांग की है। उनके खिलाफ चल रहे मुकदमों में से एसबीआई की अगुवाई वाली 12 भारतीय बैंकों की कंसोर्टियम के एक मामले में जीत हुई है। कहा गया है कि सभी बैंक अपनी वसूली के लिए आगे बढ़ सकते हैं।'

देश की अन्य ताज़ा खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें... 

भारतीय प्राधिकरणों की ओर से लगाए गए फर्जीवाड़े और धन शोधन के आरोपों में ब्रिटेन में प्रत्यर्पण के मुकदमे का सामना कर रहे माल्या सार्वजनिक क्षेत्र के 13 बैंकों द्वारा दाखिल मुकदमा हार गए हैं।

यूबी ग्रुप के पूर्व चेयरमैन माल्या पर बैंकों के 9,000 करोड़ रुपये से ज्यादा का कर्ज है।

ब्रिटिश अदालतों के फैसले में भारतीय जेल की दशा खराब बताई गई थी और कहा कि मामले पर निर्णय करने से पहले वह जेलों की दशा देखना चाहेगी।

First Published: Saturday, August 25, 2018 09:54 AM

RELATED TAG: Vijay Mallya, London, International Law, Arthur Road Jail,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो