पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ और मरियम अबुधाबी एयरपोर्ट से रवाना, लाहौर में होगी गिरफ्तारी

  |   Updated On : July 13, 2018 02:01 PM
अपनी बेटी के साथ नवाज़ शरीफ (फोटो- मरियम नवाज़ शरीफ ट्विटर)

अपनी बेटी के साथ नवाज़ शरीफ (फोटो- मरियम नवाज़ शरीफ ट्विटर)

दुबई:  

भ्रष्टाचार मामले में सजा पा चुके पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को शुक्रवार सुबह संयुक्त अरब अमीरात के अबुधाबी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से लाहौर के लिए रवाना हो गए हैं जहां उन दोनों की गिरफ्तारी होनी है।

अबुधाबी पहुंचने पर नवाज शरीफ ने कहा, 'मुझे सीधा जेल ले जाया जाएगा। लेकिन मैं यह पाकिस्तान के लोगों के लिए कर रहा हूं, आने वाली पीढ़ी के लिए त्याग कर रहा हूं। ऐसे मौके दोबारा नहीं आएंगे। एक साथ मिलकर पाकिस्तान की तकदीर का निर्माण करें।'

इससे पहले लंदन में नवाज शरीफ को फेयरवेल पार्टी दी गई। जहां पूर्व वित्त मंत्री इशाक डार भी मौजूद थे।

अबुधाबी पहुंचने से पहले पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) (पीएमएल-एन) की नेता मरियम ने ट्वीट किया, 'बच्चों को कहा कि जुल्म की स्थिति में भी निडर बन कर रहें। लेकिन बच्चे तो बच्चे ही रहेंगे। उनसे विदाई मुश्किल है, जो व्यस्कों के लिए भी होता है।'

गौरतलब है कि लंदन के पॉश एवेनफील्ड हाउस संपत्तियों की खरीद में भ्रष्टाचार को लेकर नवाज शरीफ को 10 साल और मरियम नवाज को 7 साल की सजा सुनाई गई थी।

पूर्व प्रधानमंत्री और मरियम की गिरफ्तारी के लिए नेशनल एकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) की टीम ने पूरी तैयारियां कर ली हैं। नवाज और उनकी बेटी अपनी बीमार पत्नी बेगम कुलसूम से मिलने लंदन में थे।

एनएबी सूत्रों ने कहा कि दोनों दोषियों को एक दिन के लिए अदियाला जेल में रखा जाएगा जिसके बाद उन्हें कुख्यात अटौक फोर्ट जेल में रखा जाएगा।

बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को पाकिस्तान में होने वाले आम चुनाव के ठीक पहले गिरफ्तार किया जा रहा है। जो उनकी पार्टी के लिए चुनाव में काफी नकारात्मक साबित हो सकता है। पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव होने हैं।

नवाज शरीफ ने कहा था- लड़ाई जारी रहेगी

मौजूदा मामला नवाज शरीफ के परिवार के लंदन के पॉश एवेनफील्ड हाउस में चार फ्लैट के स्वामित्व से जुड़ा हुआ है। जिसे अवैध तरीके से खरीदा गया था।

तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके नवाज शरीफ को इससे पहले भ्रष्टाचार मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य करार दिया गया था। उनके भाई शहबाज शरीफ अभी पार्टी के प्रमुख हैं और जुलाई में होने वाले चुनाव में भाग ले रहे हैं।

अदालत ने शरीफ पर 1.06 करोड़ डॉलर का, जबकि मरियम नवाज पर 26 लाख डॉलर का जुर्माना भी लगाया था। मरियम के पति सफदर को एक साल की जेल की सजा सुनाई गई थी।

हालांकि शरीफ परिवार ने जोर देकर कहा था कि उन्होंने वैध वित्तीय संसाधनों के जरिए अपार्टमेंट खरीदा है।

सजा मिलने के बाद नवाज ने कहा था कि यदि 'वोट के लिए सम्मान की मांग करने की सजा जेल है, तो मैं उसका सामना करने के लिए आ रहा हूं।' उन्होंने कहा था कि वह उन लोगों के गुलाम नहीं रहेंगे, जो अपनी शपथ और पाकिस्तान के संविधान का उल्लंघन करते हैं।

नवाज ने कहा था, 'मैं वादा करता हूं कि मैं तबतक यह संघर्ष जारी रखूंगा, जब तक कि पाकिस्तानियों को उन बेड़ियों से मुक्ति नहीं मिल जाएगी, जिसे उन्हें सच बोलने के लिए पहनाई गई हैं।'

अदालत के फैसले के अनुसार, तीनों को दस साल के लिए राजनीति में शामिल होने से रोक दिया गया है और लंदन की चार संपत्तियों को पाकिस्तान द्वारा जब्त किया जाएगा। उनके पास इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में फैसले के खिलाफ अपील करने का दस दिन का समय है।

एवेनफील्ड भ्रष्टाचार का मामला पिछले साल ऐतिहासिक पनामागेट फैसले में सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर भ्रष्टाचार रोधी संस्था द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री और उनके बच्चों के खिलाफ दायर कई भ्रष्टाचार के मामलों में से एक है।

और पढ़ें: ट्रंप हो सकते हैं गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि, भारत ने भेजा न्योता

RELATED TAG: Nawaz Sharif, Maryam Nawaz, Abu Dhabi Airport, Pakistan, Uae, London,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो