ईरान ने उत्तर कोरिया को चेताया, कहा- अमेरिका भरोसा लायक नहीं

  |   Updated On : August 09, 2018 07:50 PM
ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी

नई दिल्ली:  

ईरान और अमेरिका के बीच लगातार चल रही जुबानी जंग के बीच राष्ट्रपति हसन रूहानी ने उत्तर कोरिया के लिए संदेश भेजा है। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री यॉन्ग से कहा कि अमेरिका भरोसे लायक नहीं है। 2015 परमाणु संधि से अमेरिका के अलग होने के बाद ईरान पर लगे नए प्रतिबंधों के बाद रूहानी ने यह बयान दिया है। बता दें कि अमेरिका परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए ही उत्तर कोरिया के साथ भी बातचीत में जुटा हुआ है।

ईरान की न्यूज एजेंसी इस्लामिक रिपब्लिक के अनुसार रूहानी ने कहा, 'अमेरिकी प्रशासन के हाल के सालों के प्रदर्शन ने इस देश को दुनियाभर की नजर में अविश्वसनीय बना दिया है, जो अपने किसी भी दायित्व को पूरा नहीं करता है।'

रूहानी ने कहा, 'मौजूदा स्थिति में मित्र देशों को रिश्ते और सहयोग मजबूत करने चाहिए। ईरान और उत्तर कोरिया हमेशा से ही कई मुद्दों पर एक से विचार रखते आए हैं।'

गौरतलब है कि री सिंगापुर में सिक्यॉरिटी फोरम की बैठक में हिस्सा लेने के बाद तेहरान पहुंचे थे।

और पढ़ें: परमाणु हथियारों का त्याग करे उत्तर कोरिया: यूएन महासचिव गुटरेस

इससे पहले ईरान ने वॉशिंगटन की तरफ से दिए गए बातचीत के प्रस्ताव को भी ठुकरा दिया था। ईरान ने कहा था कि ट्रंप प्रशासन के साल 2015 के परमाणु डील से बाहर निकलने के बाद अब वह बातचीत नहीं कर सकता।

उत्तर कोरिया के टॉप डिप्लोमैट री यॉन्ग हो ने अमेरिकी द्वारा ईरान पर नए प्रतिबंध लगाए जाने के बाद तेहरान का दौरा किया है।

और पढ़ें: ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों का पालन करेगा इराक: प्रधानमंत्री

ईरान की न्यूज एजेंसी के मुताबिक, उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री ने भी 2015 के परमाणु संधि से अमेरिका के अलग होने को अंतरराष्ट्रीय नियमों और कानूनों का उल्लंघन बताया है।

RELATED TAG: Iran, Hassan Rouhani, North Korea,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो