Breaking
  • Ind VS Aus: कुलदीप यादव ने लिया हैट्रिक, मैथ्यू वेड, एस्टन एगर और पैट कमिंस को भेजा पवेलियन
  • यूपी: नोएडा सेक्टर-110 में तीन कर्मचारियों की सीवर सफाई के दौरान हुई मौत
  • जम्मू-कश्मीर के अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान ने तोड़ा सीज़फायर, बीएसएफ दे रही है जवाब
  • हाई कोर्ट के फैसले से बिफरी ममता, 'मुझे नहीं बताएं क्या करना है' -Read More »
  • अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए 500 अरब रुपये खर्च करेगी मोदी सरकार -Read More »

भारत-जापान नजदीकी से भन्नाया चीन, बोला- गठजोड़ नहीं साझेदारी करें

By   |  Updated On : September 15, 2017 09:13 AM
चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (फाइल फोटो)

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  चीन अहमदाबाद में दोनों नेताओं के बीच बैठक के नतीजे का इंतजार कर रहा है
  •  बिना टकराव के बातचीत और गठजोड़ की बजाय साझेदारी में काम करने का समर्थन करते हैं: चीन

नई दिल्ली:  

चीन ने गुरुवार को कहा कि भारत और जापान को गठजोड़ बनाने की बजाय साझेदारी के लिए काम करना चाहिए। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के भारत दौरे दूसरे दिन चीन ने यह बात कही है।

चीन ने यह भी उम्मीद जताई है कि भारत- जापान संबंध क्षेत्रीय शांति व स्थिरता के अनुकूल होंगे, क्योंकि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व जापानी समकक्ष शिंजो आबे द्विपक्षीय रक्षा व सुरक्षा के संबंधों पर चर्चा के लिए तैयार हैं।

जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे दो दिवसीय भारत के दौरे पर हैं। दोनों देशों के बीच भारत- प्रशांत क्षेत्र में उनके संयुक्त भूमिका पर चर्चा होने की उम्मीद है, जहां चीन तेजी से मुखर हो रहा है।

चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह अहमदाबाद में दोनों नेताओं के बीच बैठक के नतीजे का इंतजार कर रहा है।

और पढ़ें: जापान के हित से जुड़ा है, मजबूत भारत का सपना: शिंज़ो आबे

मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा, 'उनमें क्या चर्चा होती है, हमें विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा करनी चाहिए। हम क्षेत्रीय देशों में बिना टकराव के बातचीत और गठबंधन की बजाय साझेदारी में काम करने का समर्थन करते हैं।'

हुआ ने यह भी कहा, 'हम क्षेत्र के देशों के बीच सामान्य संबंधों के विकास का खुले तौर पर स्वागत करते हैं। हम आशा करते हैं कि उनके सबंध क्षेत्रीय शांति व स्थिरता के अनुकूल होंगे और इस संदर्भ में एक रचनात्मक भूमिका निभा सकते हैं।'

भारत व जापान के बीच बढ़ते संबंधों से चीन चिंतित है, वह साझेदारी को अपने विरोध के तौर पर देखता है।

और पढ़ें: मुंबई हमले और पठानकोट के गुनहगारों को सज़ा दें पाकिस्तान: आबे

RELATED TAG: India, Japan, Shinzo Abe, India Japan Relationship, Shinzo Abe Visit To India, Ahmedamad, China, Bullet Train Project India, Pm Modi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो