पूर्वी चीन सागर में अमेरिकी विमान रोके जाने से चीन से नाराज हुआ अमेरिका

By   |  Updated On : May 19, 2017 10:23 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:  

चीन के दो एसयू-30 लड़ाकू विमानों ने हाल ही में पूर्वी चीन सागर के ऊपर अमेरिकी वायुसेना के एक विमान को रोक दिया। यह अमेरिकी विमान विकिरण का पता लगाने के लिए निकला था। अमेरिका के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि चीनी विमान अमेरिकी वायुसेना के डब्ल्यूसी-135 विमान से 150 फुट दूर रह गए थे, और उनमें से एक एसयू-30 ने अमेरिकी विमान के मार्ग में बाधा पैदा किया।

वायुसेना के लेफ्टिनेंट कर्नल होज ने एक बयान में कहा कि डब्ल्यूसी-135 विमान के चालकों ने बुधवार की इस घटना को गैरपेशेवर करार दिया है।

उन्होंने कहा, 'हम अभी इस घटना की जांच कर रहे हैं। अमेरिकी विमान चालकों से मिली प्रांरभिक रपटों में इस घटना को गैरपेशेवर करार दिया गया है। इस मुद्दे को चीन के साथ राजनयिक और सैन्य माध्यम से निपट जा रहा है।'

ये भी पढ़ें: अफगानिस्तान में सुरक्षा बलों की बड़ी कार्रवाई, 113 आतंकी ढेर, 50 अन्य घायल

'सीएनएन' की रपट के अनुसार, घटना के दौरान चार इंजन वाला डब्ल्यूसी-135 (कॉन्स्टैंट फोनिक्स) विमान किसी परमाणु परीक्षण से निकले किसी प्रकार के विकिरण का पता लगाता है।

ये भी पढ़ें: अमेरिका ने सीरिया में पहली बार किया सीधा हमला

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो