Breaking
  • ऑस्ट्रेलिया ने इंगलैंड को एक इनिंग और 41 रन से हराया, 3-0 से एशेज सीरीज़ पर जमाया कब्ज़ा
  • बीजेपी के इंदर सिंह गांधी ने कांग्रेस उम्मीदवार प्रकाश चौधरी को हरा दिया।
  • मणिनगर से बीजेपी उम्मीदवार सुरेश भाई पटेल की जीत, पीएम मोदी पहले यहीं से थे विधायक
  • सीएम विजय रुपाणी ने राजकोट पश्चिम सीट से दर्ज़ की जीत, कांग्रेस के राजगुरु शंकर को हराया
  • दिल्ली: पीएम मोदी शीतकालीन सत्र में हिस्सा लेने पहुंचे संसद, दिखायी विक्टरी साइन
  • मुंबई के खैरानी रोड स्थित एक दुकान में लगी आग, 12 लोगों की मौत

मंदिर में क्यों बजाई जाती है घंटी? क्या ये है वजह...

  |  Updated On : November 28, 2017 01:52 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

आप जब भी भगवान के दर्शन के लिए मंदिर जाते हैं, शायद सबसे पहले घंटी बजाते हैं। मान्यता है कि घंटी बजाने से भगवान हमारी प्रार्थना जल्दी सुनते हैं। लेकिन हम आपको बताने जा रहे हैं कि यह मान्यता पूरी तरह सच नहीं है, बल्कि घंटी बजाने के पीछे एक साइंटिफिक कारण है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक, घंटी बजाने से कंपन पैदा होता है। इस वजह से सकारात्मक शक्ति बनी रहती है और आसपास का वातावरण भी शुद्ध हो जाता है।

यही वजह है कि घरों के दरवाजों और खिड़कियों पर घंटियां और विंड चाइम्स लगाए जाते हैं। इससे घर के अंदर बुरी शक्तियां प्रवेश नहीं करती हैं।

वहीं पौराणिक कथा के अनुसार जब संसार का प्रारंभ हुआ था, जब नाद की आवाज गूंजी थी। नाद घंटी बजाने पर भी आती है। इसी वजह से घंटी को नाद का प्रतीक माना जाता है।

घंटी बजाने की धार्मिक मान्यता है कि मंदिर में स्थापित देवी-देवताओं की मूर्तियों में चेतना जागृत होती है। ऐसे में भगवान आपकी प्रार्थना जल्दी सुनते हैं।

ये भी पढ़ें: बॉलीवुड में ऐतिहासिक फिल्मों पर कंट्रोवर्सी का लंबा इतिहास रहा है

RELATED TAG: Hindu Temple,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो