Breaking
  • जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने नाबालिग आरोपी की जमानत अर्जी को खारिज किया
  • कांग्रेस को झटका, गुजरात चुनाव की काउंटिंग में SC का दखल से इंकार
  • राज्यसभा दिन भर के लिए स्थगित
  • क्रिकेटर अजिंक्य रहाणे के पिता हिरासत में, कार से महिला को कुचलने का लगा आरोप
  • तीन तलाक: सूत्रों के हवाले से खबर, मोदी कैबिनेट ने बिल पर लगाई मुहर
  • माइक्रोवेव ओवन इंपोर्ट पर कस्टम ड्यूटी 10 प्रतिशत से बढ़कर 20 फीसदी हुई
  • हिमाचल में कांग्रेस का सफाया, गुजरात में फिर BJP सरकार: एग्जिट पोल -Read More »
  • इन मुद्दों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष, आक्रामक रहेगी कांग्रेस

करवा चौथ 2017: ये है पूजा का शुभ मुहूर्त, जानें कितने बजे उदय होगा चांद

  |  Updated On : October 08, 2017 04:53 AM
करवा चौथ की पूजा (फाइल फोटो)

करवा चौथ की पूजा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

देशभर में त्यौहारों की सीजन चल रहा है। नवरात्र और दशहरा खत्म होने के बाद अब लोग करवा चौथ और दिवाली की तैयारियों में जुट गए हैं।

8 अक्टूबर को सुहागिन महिलाएं करवा चौथ का व्रत रखेंगी। लेकिन पूजा करने से पहले शुभ मुहूर्त और चंद्रमा के उदय होने का समय जान लीजिए...

कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करवा चौथ का व्रत किया जाता है। इसे करक चतुर्थी भी कहते हैं। यह व्रत सुहागिन महिलाओं के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। कुवांरी लड़कियां भी अच्छा पति प्राप्त करने के लिए यह व्रत रखती हैं।

इस व्रत में शिव, पार्वती और कार्तिक की पूजा की जाती है। महिलाएं रात को चंद्रमा को जल अर्पित करती हैं। फिर चांद और पति को छलनी से देखती हैं। मान्यता के अनुसार छलनी से चंद्रमा को देखते हुए पति को देखना शुभ माना जाता है।

यह भी पढ़ें: पत्नियों के करवा चौथ का व्रत करने पर पुरुषों ने जताया ऐतराज, कहा...

करवा चौथ के दिन पूजा करने का शुभ मुहूर्त 5 बजकर 55 मिनट पर शुरू होगा। शाम को 7 बजकर 9 मिनट पर शुभ मुहूर्त खत्म हो जाएगा। चंद्रोदय का समय 8 बजकर 40 मिनट बताया जा रहा है।

करवा चौथ की पौराणिक कथा

महाभारत के वर्ण पर्व के अनुसार, करवा चौथ के दिन देवी सावित्री ने पति के प्राण वापस लाने के लिए यमदूत से प्रार्थना की थी।

वहीं इस व्रत को लेकर एक और कथा प्रचलित है। एक गांव में करवा नाम की स्त्री थी। एक दिन उसका पति नदी में नहाने गया तो उसे मगरमच्छ ने पकड़ लिया। उसने जोर-जोर से अपनी पत्नी को आवाज लगाई।

यह भी पढ़ें: करवा चौथ 2017: द्रौपदी ने भी पांडवों के लिए रखा था व्रत, श्रीकृष्ण ने दिया था सुझाव

करवा ने वहां पहुंचते ही मगरमच्छ को कच्चे धागे से बांध दिया और यमराज के साथ भागकर गई। करवा ने यमराज से कहा कि अगर उन्होंने पति के प्राणों की रक्षा नहीं की तो वह उन्हें श्राप दे देंगी।

यमराज ने डरकर मगरमच्छ को यमपुरी भेज दिया और उसके पति को दीर्घायु का आशीर्वाद दिया।

व्रत में ना करें ये गलतियां

- करवा चौथ में महिलाओं को विशेष तौर पर लाल रंग के कपड़े पहनने चाहिए। हिंदू धर्म में लाल रंग को शुभ माना जाता है। गलती से भी नीले और काले रंग के कपड़े ना पहनें।

- व्रत में महिलाओं को किसी अन्य व्यक्ति को सफेद कपड़े, दूध, दही और चावल नहीं देना चाहिए।

- चांद देखने के बाद मां गौरी की पूजा जरूर करें। पूजा पूर्ण होने के बाद मां को पूरी-हलवा के प्रसाद का भोग लगाएं।

यह भी पढ़ें: दिवाली पर मेहमानों को खिलाएं भाजणी चकली और केले का हलवा

RELATED TAG: Karwa Chauth 2017,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो