सावन का दूसरे सोमवार पर काशी विश्वनाथ मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़

By   |  Updated On : July 17, 2017 11:51 PM
 काशी विश्वनाथ (ANI)

काशी विश्वनाथ (ANI)

नई दिल्ली :  

सावन में भगवान शिव की अपार महिमा बरसती है, ऐसे में भक्त भी उन्हें मनाने के​ लिए हर प्रयत्न में जुट जाते हैं। सावन के महीने में सोमवार के व्र​त का खास महत्व होता है। ऐसा माना जाता है कि जो लोग सावन के व्रत रखते है भगवान शिव उनसे प्रसन्न हो जाते है। इस महीने में सोमवार का व्रत करने से सभी इच्छाएं पूरी होती हैं और सालभर के सोमवार का व्रत रहने का पुण्य प्राप्त होता है।

इस बार सावन 10 जुलाई से शुरू होकर 7 अगस्त तक चलेगा। इस पूरे मास में पांच सोमवार पड़ेगा इस सावन की खास बात यह है कि ये सोमवार को ही शुरू होगा और सोमवार को ही संपन्न होगा सावन का दूसरा सोमवार विशेष फलदायक होता है।

इस दिन भोलेनाथ को बेलपत्र, धतूरा, भांग, शहद आदि अर्पित कर विशेष पूजन करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इससे परिवार की स्वास्थ्य समस्याएं दूर होती हैं। इस बार सावन का दूसरा सोमवार और संक्राति का भी संयोग हैं। श्रद्धालु वाराणसी में विश्वनाथ मंदिर में भगवान शिव के दर्शन करने पहुंचे 

और पढ़ें: अमरनाथ यात्रियों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 16 की मौत, 35 श्रद्धालु घायल ऐसे करें पूजा

सुबह जल्दी उठ नहा-धोकर भगवान शिव पूजन बेलपत्र, धतूरा, भांग, शहद,विशेष फूल से करें। इससे आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी। सावन के दूसरे सोमवार को आप शिवलिंग पर आंकड़े का फूल अर्पित करें। ऐसा माना जाता है कि इस दिन शिवलिंग पर यह फूल चढ़ाने से भगवान आपकी सारी मनोकामना पूर्ण करते है साथ ही घर सुख-समृद्धि भी आती है।

और पढ़ें: भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की 'दया याचिका' खारिज, पाक आर्मी चीफ ने शुरू किया 'सबूतों' का आकलन

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो