आनंदपाल एनकाउंटर: राजपूतों की भीड़ ने पुलिस गाड़ी को किया आग के हवाले, चार जिलों में धारा 144 लागू

By   |  Updated On : July 13, 2017 12:18 AM
गैंगस्टर आनंदपाल सिंह (फाइल फोटो)

गैंगस्टर आनंदपाल सिंह (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  गैंगस्टर आनंदपाल सिंह की एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर उग्र प्रदर्शन
  •  नागौर में राजपूतों ने पुलिस गाड़ी को किया आग के हवाले, 16 लोग घायल
  •  नागौर, चुरू, सीकर और बिकानेर में धारा 144 लागू, इंटरनेट सेवा बंद

नई दिल्ली:  

राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल सिंह की एनकाउंटर में मारे जाने के बाद से राजधानी जयपुर समेत राज्य के कई राजपूत बहुल क्षेत्रों में प्रदर्शन हो रहे हैं। बुधवार को नागौर में आनंदपाल सिंह समर्थकों के हिंसक प्रदर्शन में कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। भीड़ ने पुलिस की गाड़ियों को भी आग के हवाले कर दिया।

भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को कई राउंड हवाई फायरिंग भी करनी पड़ी। हिंसा में 16 लोग घायल हुए हैं।

गुस्साई भीड़ ने किशनगढ़ हनुमानगढ़ हाइवे पर भी जाम लगा दिया। राजपूत करणी सेना समेत अन्य संगठनों के उग्र प्रदर्शनों को देखते हुए प्रशासन ने नागौर, चुरू, सीकर और बिकानेर में धारा 144 लागू कर दिये हैं। इंटरनेट सेवा को रोक दी गई है।

सीबीआई जांच की मांग
प्रदर्शनकारी आनंदपाल सिंह एनकाउंटर पर सवाल उठाते हुए सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। आनंदपाल के परिवार और राजपूत समाज का कहना है कि आनंदपाल का एनकाउंटर फर्जी है। इसकी सीबीआई जांच हो।

और पढ़ें: अमरनाथ आतंकी हमले के 'मास्टरमाइंड' अबू इस्माइल की तलाशी के लिए सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन

राजस्थान के चूरू जिले के मालेसर में 24 जून को पुलिस ने आनंदपाल को मार गिराया था। घटना के इतने दिनों बाद भी परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार नहीं किया है। आनंदपाल के शव को डीप फ्रीजर में रख रखा है।

और पढ़ें: कुमार विश्वास ने अमिताभ बच्चन के लीगल नोटिस पर दिया ये जवाब

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो