Breaking
  • कर्नाटक विधानसभा चुनाव: बीजेपी-कांग्रेस ने जारी की स्टार कैंपेनर्स की लिस्ट
  • कर्नाटक सीएम सिद्धारमैया दो जगह से लड़ेंगे चुनाव, बदामी से भी नामांकन दाखिल करेंगे
  • IPL 2018 DD vs RCB: आरसीबी ने टॉस जीता, पहले गेंदबाजी का फैसला
  • पॉक्सो एक्ट में संशोधन के बाद स्वाति मालीवाल ने कल अनशन तोड़ने का किया ऐलान
  • पश्चिम बंगाल: पंचायत चुनाव के लिए नई नामांकन तिथि घोषित करेगा चुनाव आयोग: सूत्र
  • IPL 2018: कोलकाता ने किंग्स इलेवन पंजाब को दिया 192 रनों का लक्ष्य
  • कर्नाटक विधानसभा चुनाव: AIADMK ने उतारे 3 उम्मीदवार
  • 2002 हिट एंड रन केस: मुंबई सेशन कोर्ट ने सलमान खान के खिलाफ जमानती वॉरंट को रद्द किया
  • POCSO एक्ट में संशोधन को कैबिनेट की मंजूरी, 12 साल के छोटे बच्चों से रेप पर होगी फांसी
  • दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने बिटकॉइन रैकेट का किया पर्दाफाश, दो गिरफ्तार
  • चार दिवसीय यात्रा पर चीन और मंगोलिया जाएंगी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज
  • आसाराम रेप केस: 25 अप्रैल को आएगा फैसला, 30 अप्रैल तक जोधपुर में 144 धारा होगी लागू

देखें क्रिकेट के बल्ले की जगह देश को टेनिस रैकेट थमाने वाली सानिया का सफरनामा

Updated On : Nov 15, 2016 04:26 AM

सानिया मिर्जा

सानिया मिर्जा

भारत को क्रिकेट का देश कहा जाता है। जहां बच्चों के हाथ में बचपन से बल्ला थमा दिया जाता है। ऐसे में भारतीय खेल में दुनिया में सनसनी बनकर आई सानिया मिर्जा। जिसने भारत के लोगों को टेनिस से परिचय कराया। भारत की टेनिस सनसनी से वर्ल्ड नं 1 बनीं टेनिस प्लेयर सानिया मिर्जा लगातार इतिहास रच रही हैं। 15 नवंबर 1986 को जन्मी इस भारतीय टेनिस स्टार आज अपना 30वां जन्मदिन मना रहीं हैं।

सानिया के करियर की शुरुआत

सानिया के करियर की शुरुआत

6 साल की उम्र में हाथों में रैकेट थामने वाली सानिया को महेश भूपति के पिता और भारत के सफल टेनिस प्लेयर सीके भूपति से सानिया ने अपनी शुरुआती कोचिंग ली। जिसके बाद सानिया ने अपने करियर में कभी पीछे नहीं देखा। 13 साल की उम्र में 1999 में विश्व जूनियर टेनिस चैंपियनशिप में हिस्सा लिया। 17 साल की उम्र में विंबलडन का जूनियर डबल्स चैंपियनशिप को जीता।

सानिया के टाइटल

सानिया के टाइटल

2009 में महेश भूपति के साथ ऑस्ट्रेलियन ओपन, 2012 में महेश भूपति के साथ फ्रेंच ओपन मिक्स डबल्स खिताब जीता। 2014 में ब्राजील के ब्रूनो सुआरेस के साथ यूएस ओपन मिक्स डबल्स खिताब जीता। वहीं सानिया की सबसे सफल जोड़ीदार मार्टिना हिंगिस रहीं। 2015 में मार्टिना हिंगिस के साथ विंबलडन और यूएस ओपन का डबल्स खिताब भी अपने नाम किया। 2016 में हिंगिस के साथ ऑस्ट्रेलियाई ओपन का डबल्स खिताब जीता।

सानिया की लव लाइफ

सानिया की लव लाइफ

सानिया ने 2009 में अपने बचपन के दोस्त सोहराब मिर्जा से सगाई की। लेकिन यह सगाई ज्यादा दिन टिक नहीं पाई। जिसके बाद सानिया ने सबको चौकाते हुए 12 अप्रैल 2010 में पाकिस्तानी खिलाड़ी शोएब मलिक से निकाह कर लिया। जिसका देशभर में विरोध हुआ। सानिया ने इन सभी बातों की परवाह किए बिना अपनी शादीशुदा जिंदगी को सफल बनाने में जोर दिया।

सानिया से जुड़ी कॉन्ट्रोवर्सी

सानिया से जुड़ी कॉन्ट्रोवर्सी

सानिया के नाम कई कॉन्ट्रोवर्सी जुड़ी। मुस्लिम समुदाय से होने के कारण सानिया के खेल पर सवाल उठाये गये। इस्लाम में लड़कियों को बुरखे में रहने या पूरे कपड़े पहनने की हिदायत है। ऐसे में टेनिस खेलने वाली सानिया के कपड़ों को लेकर जमकर विवाद हुआ। ऐसा ही विवाद उनकी शादी पर हुआ। पाकिस्तानी खिलाड़ी से शादी करने वाली सानिया को देशद्रोही तक बोला गया।

सानिया और पुरस्कार

सानिया और पुरस्कार

पिछले एक दशक से भी ज्यादा समय से भारत की नंबर वन महिला टेनिस प्लेयर बनी हुई हैं।2004 में सानिया को 'अर्जुन अवॉर्ड', 2006 में 'पद्मश्री' , 2006 में अमेरिका का प्रतिष्ठित अवॉर्ड 'मोस्ट इम्प्रेसिव न्यू कमर', बेहतरीन प्रदर्शन के लिए 2015 भारत सरकार की तरफ से 'राजीव गांधी खेल रत्न', 2016 में पद्म भूषण पुरस्कार से नवाजा गया।

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो