50 से लेकर 90 के दशक तक अलग- अलग संगीतकारों के लिए गाए मशहूर गाने

Updated On : Sep 28, 2016 04:42 AM

लता मंगेशकर

लता मंगेशकर

'तुम आ गए हो, नूर आ गया है..', नाम गुम जाएगा चेहरा ये बदल जाएगा...' जैसे बेहतरीन गानों को अपनी आवाज़ देने वाली स्वर कोकिला लता मंगेशकर का 28 सितंबर को जन्मदिन है। मध्य प्रदेश के इंदौर में जन्मीं लता ने 30 से ज्यादा भाषाओं में गाना गाया है। 50 से लेकर 90 के दशक तक उन्होंने अपनी आवाज का जादू बिखेरा है। ये गीत आज भी सदाबहार हैं।

दो आंखें 12 हाथ (1958)

दो आंखें 12 हाथ (1958)

ऐ मालिक तेरे बंदे हम, ऐसे हो हमारे करम

दिल अपना और प्रीत पराई (1960)

दिल अपना और प्रीत पराई (1960)

अजीब दास्तां है ये, कहां शुरू कहां खत्म

वो कौन थी (1964)

वो कौन थी (1964)

लग जा गले कि फिर ये हंसी रात हो न हो

गाइड (1965)

गाइड (1965)

आज फिर जीने की तमन्ना है, आज फिर मरने का इरादा है

खामोशी (1969)

खामोशी (1969)

हमने देखी है, उन आंखों की महकती खुश्बु

अभिमान (1973)

अभिमान (1973)

सजन बिंदिया ले लेगी तेरी निंदिया

मासूम (1983)

मासूम (1983)

तुझ से नाराज नहीं जिंदगी, हैरान हूं मैं

हम आपके हैं कौन (1994)

हम आपके हैं कौन (1994)

दीदी तेरा देवर दीवाना, हाय राम कुड़ियों को डाले दाना

दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995)

दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995)

मेरे ख्वाबों में जो आए, आ के मुझे छेड़ जाए

लता मंगेशकर

लता मंगेशकर

सैनिकों की याद में गाया गया गाना - ऐ मेरे वतन के लोगों, जरा आंख में भर लो पानी

अन्य फोटो

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो