हंगामे की भेंट चढ़ा राज्यसभा का छठा दिन, 27 दिसंबर तक कार्यवाही स्थगित

  |   Updated On : December 22, 2017 05:45 PM
अनंत कुमार, संसदीय कार्य मंत्री (एएनआई)

अनंत कुमार, संसदीय कार्य मंत्री (एएनआई)

नई दिल्ली:  

संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा की कार्यवाही सभापति एम वेंकैया नायडू ने कांग्रेस सांसदों के आग्रह पर अगले बुधवार तक के लिए स्थगित कर दी।

संसद की कार्यवाही शुरू होने पर विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सरकार लोकजाम को खत्म करने के लिए विपक्ष के साथ बातचीत कर रही थी और जब तक इसका समाधान नहीं निकल जाता, सदन की कार्यवाही स्थगित की जानी चाहिए।

संसदीय मामलों के राज्यमंत्री विजय गोयल ने विपक्ष से संसद की कार्यवाही चलने देने को कहा।

कांग्रेस सदस्यों के अपनी मांग पर अड़े रहने की वजह से नायडू ने सदन की कार्यवाही बुधवार तक के लिए स्थगित कर दी।

वहीं लोकसभा की कार्यवाही भी हंगामे के कारण बार-बार बाधित हो रही है।

शुक्रवार सुबह कांग्रेस ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के ख़िलाफ़ पीएम मोदी के बयान पर संसद में चर्चा के लिए स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया था।

वहीं संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा है कि शुक्रवार को लोकसभा में 'ओखी तूफान' पर नियम 193 के तहत होगी चर्चा।

अनंत कुमार ने कहा, 'मुझे उम्मीद है कि कांग्रेस इस गंभीर मुद्दे पर बिना कोई राजनीति किए बहस में हिस्सा लेगी।'

आदर्श सोसाइटी घोटाला: पूर्व सीएम अशोक चव्हाण को बड़ी राहत, HC ने मुकदमा चलाने की मांग की अस्वीकार

बता दें कि शीतकालीन सत्र के 5वें दिन गुरुवार को भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर लगाए गए आरोप और कथित 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला मामले में यूपीए के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के दुष्प्रचार को लेकर कांग्रेस नेताओं के हंगामे के बाद राज्यसभा की कार्यवाही बार-बार बाधित होती रही। 

सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने दो मुद्दों को उठाया।

आजाद ने कहा, 'बुधवार तक हम मनमोहन सिंह जी के खिलाफ प्रधान मंत्री की टिप्पणी पर उनसे स्पष्टीकरण की मांग कर रहे थे लेकिन आज एक और घटना हुई और अब हमें दोनों मुद्दों पर स्पष्टीकरण चाहिए।'

गुजरात का अगला मुख्यमंत्री कौन? गांधीनगर में आज होगी बीजेपी विधायकों की बैठक

आजाद ने आगे कहा, 'अब उन्हें साबित करना चाहिए कि किस आधार पर उन्होंने आरोप लगाया था कि 1.76 लाख करोड़ रुपये का घोटाला हुआ था। झूठे अभियान के माध्यम से यूपीए के खिलाफ माहौल बनाया गया और यही कारण है कि हम यहां विपक्ष में हैं और आप वहां सत्ता में हैं।'

संसदीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल ने कहा कि यदि सदन में इस तरह का हंगामा रोजाना होता रहेगा तो प्रधानमंत्री सदन में नहीं आ सकेंगे।

प्रधानमंत्री आमतौर पर गुरुवार को राज्यसभा में आते हैं क्योंकि उस समय प्रधानमंत्री के कार्यालय से संबंधित प्रश्न सूचीबद्ध होते हैं। 

सभापति ने आजाद से इस मुद्दे पर नहीं बोलने का आग्रह किया क्योंकि उन्होंने इस संबंध में कोई नोटिस नहीं दिया है लेकिन आजाद ने बोलना जारी रखा।

नायडू ने कहा, 'आप उचित नोटिस दिए बिना कोई मुद्दा नहीं उठा सकते हैं। यह नियमों से परे नहीं जा सकता। सदन नियमों के मुताबिक काम करती है। यदि कुछ गंभीर है तो सदन उसे प्राथमिकता के रूप में लेगा।'

कांग्रेस ने 2जी घोटाले पर गुरुवार को आए फैसले को उठाते हुए कहा कि अदालत के फैसले ने यूपीए के रुख को सही साबित किया है कि स्पेक्ट्रम एवं लाइसेंस आवंटन में कोई घोटाला नहीं हुआ था।

कांग्रेस ने कहा-2G घोटाला BJP और पूर्व CAG की साजिश, देश से माफी मांगे पीएम मोदी

RELATED TAG: Live Updates Day 6 Winter Session Pm Modi Manmohan Singh Lok Sabha Rajya Sabha 2g Scam Ghulam Nabi Azad Venkaiah Naidu,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो