Breaking
  • अब सरकार से बड़े आर्थिक सुधार की उम्मीद होगी बेमानी: एसोचैम
  • बलूचिस्तान: क्वेटा में चर्च के पास धमाका, चार घायल
  • INDvSL तीसरा वनडे: भारत ने टॉस जीतकर लिया गेंदबाजी का फैसला
  • असम के धेमाजी में आया 4.2 तीव्रता का भूकंप
  • सुरक्षा बलों ने बारामुला के पट्टन इलाके में सर्च ऑपरेशन किया लॉन्च
  • पाकिस्तान सरकार ने जाधव की पत्नी और मां के वीजा को किया मंजूर
  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी सांसद और पद अधिकारियों को दिया डिनर का न्योता
  • मध्यप्रदेश: कांग्रेस नेता कमल नाथ पर बंदूक तानने वाले पुलिस कांस्टेबल के खिलाफ FIR दर्ज
  • अमृतसर, जालंधर और पटियाला की 32 नगर परिषदों और नगर पंचायतों पर मतदान हुआ शुरू
  • गुजरात चुनाव: आज 6 बूथों पर फिर से होगा मतदान

ओखी तूफान: रक्षामंत्री तमिलनाडु और केरल का करेंगी दौरा, अब तक 357 मछुआरों को निकाला गया

  |  Updated On : December 04, 2017 02:57 PM
रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण (फाइल फोटो)

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :  

केरल और तमिलनाडु में ओखी तूफ़ान ने तबाही मचाई हुई है। सीतारमण आज तमिलनाडु और केरल के अन्य प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगी।

रक्षा मंत्रालय द्वारा जुटाए गए आंकड़ों में कहा गया है कि भारतीय नौसेना, तटरक्षक व वायुसेना ने अब तक 357 मछुआरों को इस तूफ़ान के कहर से बचाया है।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने चक्रवात ओखी के बाद खोज एवं राहत अभियान की समीक्षा की।

रक्षामंत्री ने कहा, 'हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि सभी लापता मछुआरे सुरक्षित हो 15 दिन तक समुद्र में फंसी नाव में सभी मछुआरे जिंदा थे

और पढ़ें: रणदीप सुरजेवाला ने पीएम पर साधा निशाना, कहा- मोदी 'राहुल फोबिया' से पीड़ित

लक्षद्वीप में भारतीय नौसेना का सर्च ऑपरेशन जारी है

357 बचाये गए मछुआरों में से 71 तमिलनाडु के मछुआरे है जो कि ओखी तूफ़ान के कारण समुद्र में फंस गए थे।

कन्याकुमारी पहुंचने व अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद मंत्री ने आसपास के गांवों का दौरा किया, जहां उन्होंने स्थानीय मछुआरों से बातचीत की। सीतारमण ने तमिलनाडु के उपमुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम से भी मुलाकात की।

और पढ़ें: दिल्ली सरकार का फैसला, सभी डीटीसी और क्लस्टर बसों में लगेंगे CCTV कैमरा

मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि वह कन्याकुमारी से सड़क के रास्ते केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम जाएंगी और चक्रवात प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगी व स्थानीय लोगों से रास्ते में मिलेंगी।

तमिलनाडु के अधिकारियों ने कहा कि चक्रवात ओक्खी के कारण हुई मौतों की कुल संख्या 19 पर पहुंच गई है। राज्य विभाग ने कहा कि कम से कम 690 लोगों को अब तक बचाया गया है जबकि 96 अभी भी लापता हैं।

मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, रक्षा बलों ने 30 नवंबर से 71 तमिलनाडु के मछुआरों को, केरल के 250 लोगों को, लक्षद्वीप व मिनिकाय द्वीप के 38 लोगों को बचाया है।

और पढ़ें: राहुल कांग्रेस के दुलारे, पार्टी परंपरा को आगे बढ़ाएंगे: मनमोहन सिंह

(इनपुट- आईएएनएस)

 

RELATED TAG: Cyclone Ockhi, Nirmala Sitharaman,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो