Breaking
  • ऑस्कर के लिए भारत की तरफ से जाएगी राजकुमार राव की फिल्म 'न्यूटन' -Read More »
  • नोएडा सुपरटेक एमरेल्ड कोर्ट मामला: SC का आदेश, निवेशकों को 14% ब्याज के साथ रकम मिलेगी
  • नवरात्र के नाम पर शिवसेना की गुंडागर्दी, गुरुग्राम में बंद कराए 600 मीट शॉप -Read More »
  • मूर्ति विसर्जन मामला: HC फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएंगी ममता, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • दाऊद के भाई इकबाल कासकर का दावा, पाकिस्तान में रहा है डॉन, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • गोरक्षक दलों पर प्रतिबंध लगाने की मांग के मामले में कई राज्यों ने SC में दाखिल की रिपोर्ट
  • ट्रंप को बेहूदा बयानों की भारी कीमत चुकानी पड़ेगी: किम जोंग उन -Read More »
  • रायन स्कूल मर्डर केस: पिंटो परिवार को गुरुग्राम पुलिस ने पूछताछ के लिए भेजा समन
  • भारत का शाहिद खकान को जवाब, पाकिस्तान है टेररिस्तान -Read More »
  • जम्मू-कश्मीर: बनिहाल से दो आतंकी गिरफ्तार, एसएसबी जवान पर हुए हमले का है आरोपी

नागालैंड में राजनीतिक संकट, लीजीत्सु को 15 जुलाई तक साबित करना होगा बहुमत

By   |  Updated On : July 11, 2017 10:51 PM

ख़ास बातें
  •  नगालैंड के राज्यपाल ने मुख्यमंत्री लीजीत्सु को 15 जुलाई तक बहुमत साबित करने के लिए कहा
  •   पूर्व मुख्यमंत्री टी.आर.जेलियांग ने 34 विधायकों तथा सात निर्दलीय विधायकों के समर्थन का दावा किया है

नई दिल्ली:  

नगालैंड के राज्यपाल पी.बी.आचार्य ने प्रदेश में सत्तारूढ़ नागा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) में भारी अंतर्कलह तथा मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग के मद्देनजर मुख्यमंत्री शुरहोजेली लीजीत्सु को 15 जुलाई तक बहुमत साबित करने के लिए कहा है।

एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, 'यह निर्देश प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री टी.आर.जेलियांग द्वारा राज्य में नई सरकार के गठन को लेकर अपना दावा सौंपने के बाद दिया गया है। जेलियांग ने 34 विधायकों तथा सात निर्दलीय विधायकों के समर्थन का दावा किया है।'

राजनीतिक अस्थिरता ऐसे वक्त में सामने आई है, जब लीजीत्सु 29 जुलाई को नॉर्दर्न अंगामी-आई विधानसभा क्षेत्र से उपचुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं।

जनजाति समूहों द्वारा महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण के साथ निकाय चुनाव कराने के विरोध में हिंसक विरोध-प्रदर्शन के बाद जेलियांग ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद 22 फरवरी को लीजीत्सु मुख्यमंत्री बने थे।

इसे भी पढ़ें: दार्जिलिंग हिंसा: पुलिस लाठीचार्ज में घायल जीजेएम कार्यकर्ता की मौत

जेलियांग ने नई सरकार बनाने के दावे को लेकर रविवार को राज्यपाल को एक खत लिखा था। अगले ही दिन लीजीत्सु ने अपने चार शीर्ष मंत्रियों तथा 10 संसदीय सचिवों को बर्खास्त कर दिया। यह बर्खास्तगी मुख्यमंत्री को हटाने की मांग के प्रतिक्रिया स्वरूप की गई।

पार्टी के विधायक दल में विद्रोह तब शुरू हुआ, जब कुछ सदस्यों ने लीजीत्सु पर अपने बेटे ख्रिहू लीजीत्सु को कैबिनेट मंत्री का दर्जा और वेतन के साथ अपना सलाहकार नियुक्त करने को लेकर 'भाई-भतीजावाद' करने का आरोप लगाया।

पिता को मुख्यमंत्री पद पर बरकरार रखने के लिए ख्रिहू ने नॉर्दर्न अंगामी-आई विधानसभा क्षेत्र से इस्तीफा दे दिया। वहीं उन्होंने सोमवार को नियुक्ति से इनकार किया। 60 सदस्यीय विधानसभा में सत्तारूढ़ डेमोक्रेटिक अलायंस ऑफ नागालैंड गठबंधन में एनपीएफ के 47 विधायक, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के चार तथा आठ निर्दलीय विधायक हैं। एक सीट खाली है।

इसे भी पढ़ें: योगी सरकार के पहले बजट में किसानों की कर्जमाफी के लिए 36,000 करोड़

RELATED TAG: Nagaland Political Crisis,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो