Breaking
  • आरजेडी कार्यकर्ताओं के हंगामे के बाद सीएम नीतीश के आवास पर बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था
  • NDA में शामिल हुई जेडी-यू, 'बागी' शरद यादव के खिलाफ नहीं हुई कार्रवाई -Read More »
  • शुक्रवार की क्लोजिंग के मुकाबले 25 फीसदी प्रीमियम पर बायबैक करेगी इंफोसिस
  • यूपी में ख़राब कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी के नेताओं ने राज्यपाल से की मुलाक़ात
  • इंफोसिस के बोर्ड ने 13,000 करोड़ रुपये के बायबैक को दी मंजूरी -Read More »
  • उत्तर प्रदेश के गोरखपुर पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी
  • जम्मू-कश्मीर: शोपियां ज़िले के 9 गांवो में सुरक्षाकर्मियों ने शुरु किया सर्च ऑपरेशन

महिला हॉकी: हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल में अमेरिका ने भारत को 4-1 से हराया

By   |  Updated On : July 11, 2017 11:57 PM
महिला हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल

महिला हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल

जोहानिसबर्ग:  

अमेरिका की महिला हॉकी टीम ने शानदार वापसी करते हुए भारत को हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल में 4-1 से हरा दिया। अमेरिका ने आखिरी 20 मिनट में तीन गोल करते हुए भारतीय टीम को मात दी।

पहला क्वार्टर काफी रोमांचक रहा। अमेरिका ने भारतीय गोलकीपर सविता को काफी व्यस्त रखा। दूसरे मिनट में ही उन्हें पेनाल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन सविता ने अपने शानदार प्रयास से गोल नहीं होने दिया।

इसके तुरंत बाद भारत गोल करने के काफी करीब पहुंचा। वंदना ने रानी के साथ मिलकर प्रयास किया, लेकिन गेंद को गोलपोस्ट में नहीं पहुंचा सकीं। दूसरे क्वार्टर में भारत ने बेहतर खेल दिखाया। 22वें मिनट में उसे पेनाल्टी कॉर्नर भी मिला लेकिन स्टॉपर मोनिका गेंद को ट्रैप नहीं कर सकीं और इस कारण गोल नहीं हो सका।

दो मिनट बाद जिल वाटमैर ने साविता को छकाते हुए अमेरिकी टीम का खाता खोला। दूसरे क्वार्टर के अंतिम मिनट में भारत ने गोल करने की कोशिश की, लेकिन इस बार भी उसे सफलता नहीं मिली।

और पढ़ेंः विंबलडन के वूमेंस डबल्स में सानिया मिर्जा और किस्र्टेन फ्लिपकेंस हारी

तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में दोनों टीमों को पेनाल्टी कॉर्नर मिले। इस बार भारत ने मौका नहीं जाने दिया और लिलिमा मिंज ने 38वें मिनट में भारत को बराबरी करा दी। स्कोर बराबर होने के बाद अमेरिकी टीम और आक्रामक हो गई। दो मिनट बाद टेलर वेस्ट ने अमेरिका के लिए दूसरा गोल दागा।

43वें मिनट में जिल को अपना दूसरा गोल करने का मौका मिला जिसे उन्होंने व्यर्थ नहीं जाने दिया और स्कोर 3-1 कर दिया।

अंतिम क्वार्टर में अमेरिका ने भारत को बांधे रखा और आक्रमण के ज्यादा मौके नहीं दिए। अमेरिका ने अपना दबदबा कायम रखा और 49वें मिनट में मिशेल विटसे ने उसके लिए चौथा गोल किया। अंतिम समय में अमेरिका को एक और पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे टीम गोल में नहीं बदल पाई।

और पढ़ेंः विंबलडन 2017: वर्ल्ड नंबर एक एंजेलिक कर्बर हुईं उलटफेर का शिकार, ओस्टापेंको क्वॉर्टरफाइनल में पहुंची

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो