Breaking
  • प्रद्युम्न हत्या मामला: आरोपी बस कंडक्टर की जमानत पर फैसला कल तक के लिए सुरक्षित
  • गुजरात चुनाव 2017: बीजेपी ने जारी की 26 उम्मीदवारों की तीसरी सूची
  • वैष्णो देवी दर्शन के लिए नया रास्ता खोलने के NGT के निर्देश पर SC की रोक
  • CWC बैठक: 1 दिसंबर को कांग्रेस पार्टी के नए अध्यक्ष का ऐलान होगा
  • कालेधन पर बड़ी कामयाबी, स्विस सरकार भारत को देगी खातों की जानकारी (पढ़ें खबर) -Read More »

Wimbledon Final 2017: फेडरर को केवल एक बार हरा सके हैं सिलिक, क्या आज होगा उलटफेर?

  |  Updated On : July 16, 2017 02:42 PM
रोजर फेडरर और मारिन सिलिच (फाइल फोटो)

रोजर फेडरर और मारिन सिलिच (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :  

स्विट्जरलैंड के स्टार टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर अपने 8वें विंबलडन और 19वें ग्रैंडस्लैम खिताब के लिए रविवार को क्रोएशिया के मारिन सिलिक से भिड़ेंगे। फेडरर चेक गणराज्य के थॉमस बर्डिक को हराकर फाइनल में पहुंचे तो वहीं, सिलिक ने अमेरिका के सैम क्वेरी को हराकर पहली बार विंबलडन के फाइनल में जगह बनाई है।

विंबलडन-2017 में तीसरे वरीय फेडरर 11वीं बार विंबलडन के फाइनल में पहुंचे हैं। उन्होंने टूर्नामेंट में अभी तक एक भी सेट नहीं गंवाया है। घुटने की सर्जरी के बाद कोर्ट पर वापसी करने वाले फेडरर की यह 32 मैचों में 30वीं जीत है। सिलिक दूसरी बार किसी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में पहुंचे। इससे पहले वह 2014 में यूएस ओपन के फाइनल में पहुंचे थे और ट्रॉफी भी जीती थी। वह 2014, 2015 और 2016 में क्वार्टर फाइनल में हार गए थे।

और पढ़ेंः गार्बीन मुगुरुजा पहली बार बनी विंबलडन महिला एकल की चैंपियन, जानिए उनसे जुड़ी कुछ खास बातें

सिलिक सबसे ज्यादा प्रयास के बाद विंबलडन के फाइनल में पहुंचने वाले ओपन एरा के पहले खिलाड़ी बन गए हैं। वह 11 मौकों के बाद यहां खिताबी मुकाबले में पहुंचे। उनसे पहले यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के पैटिक रैफ्टर के नाम दर्ज था। बहरहाल, फाइनल में बाजी कौन मारेगा इसे लेकर कयास शुरू हो गए हैं।

फेडरर का पलड़ा भारी

फेडरर अपने 8वें विंबलडन खिताब की तलाश में हैं। आंकड़ों को देखें तो फेडरर इस मामले में सिलिक से कहीं आगे हैं। दोनों खिलाड़ियों के बीच अब तक सात मुकाबले हुए हैं और इनमें से छह बार बाजी फेडरर ने मारी है। वहीं, एक बार सिलिक विजेता रहे हैं। हालांकि, दोनों के बीच आखिरी दो मुकाबले बेहद कड़े रहे हैं। 

और पढ़ेंः गार्बीन मुगुरुजा ने जीता विंबलडन महिला एकल का खिताब, फाइनल में वीनस विलियम्स को दी शिकस्त

सबसे उम्रदराज विंबलडन चैम्पियन बनेंगे फेडरर?

फेडरर अगर फाइनल में जीत हासिल करते हैं तो मॉर्डन एरा में विंबलडन खिताब अपने नाम करने वाले वह सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन जाएंगे। फेडरर अभी 35 साल के हैं। इससे पहले 1975 में अमेरिका के अर्थर अशे ने 32 साल की उम्र में विंबलडन जीता था। विंबलडन-2017 में जीत के बाद फेडरर एक और दिलचस्प रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे।

दरअसल, फेडरर ने 7 विंबलडन खिताब जीते हैं। अमेरिका के पीट सम्प्रास के नाम भी इतने ही विंबलडन खिताब है। इसका मतलब हुआ कि अगर फेडरर ने बाजी मारी तो सबसे ज्यादा बार विंबलडन जीतने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे।

यही नहीं, फेडरर विंबलडन-2017 जीतते हैं तो वह एक ही ग्रैंड स्लैम 8 बार जीतने वाले दूसरे टेनिस खिलाड़ी बन जाएंगे। फेडरर के अलावा केवल स्पेन के राफेल नडाल ने 10 बार फ्रेंच ओपन खिताब जीता है। फेडरर पहले ही विंबलडन में सबसे ज्यादा बार मैच जीतने वाले खिलाड़ी बन चुके हैं।

RELATED TAG: Wimbledon Cup 2017, Wimbledon Cup Final, Roger Federer In Final, Marin Cilic In Final,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो