लागत वृद्धि, जीएसटी से सेवा क्षेत्र का पीएमआई सूचकांक गिरा

  |   Updated On : December 05, 2017 11:17 PM

नई दिल्ली:  

लागत में वृद्धि के दवाब के साथ जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) के लागू करने के प्रभाव से नवंबर के दौरान भारतीय सेवा क्षेत्र के उत्पादन में कमी दर्ज की गई है। एक प्रमुख व्यापक-आर्थिक आंकड़े में मंगलवार को यह जानकारी दी गई है।

सेवा क्षेत्र की गतिविधियों की माप करनेवाले निक्केई इंडिया सर्विसेज पीएमआई बिजनेस एक्टिविटी सूचकांक में सेवा क्षेत्र में पिछले दो माह की तेजी के बाद नवंबर में गिरावट दर्ज की गई है।

पीएमआई रिपोर्ट में कहा गया है, 'पैनलिस्टों ने व्यापक रूप से व्यापार प्रदर्शन में गिरावट के लिए जीएसटी को जिम्मेदार ठहराया। इस दौरान लागत के दवाब में बढ़ोतरी दर्ज की गई।'

इसके बाद, मौसमी समायोजित सूचकांक ने नवंबर 2017 में 50 के चिन्ह के नीचे एक समग्र गिरावट दर्ज की। 50 से ऊपर का सूचकांक आर्थिक गतिविधियों में बढ़ोतरी का तथा 50 से कम आर्थिक गतिविधियों में समग्र कमी का सूचक है।

इसे भी पढ़ेंः अयोध्या विवाद मामला को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आठ फरवरी तक टली सुनवाई

सेवा क्षेत्र के पीएमआई में गिरावट के प्रभाव से नवंबर के दौरान समग्र निजी क्षेत्र के उत्पादन में गिरावट रही।

अर्थशास्त्री और रिपोर्ट की लेखिका आहना दोधिया ने कहा, 'पिछले दो महीनों में मामूली वृद्धि के बाद, नवंबर में विनिर्माण क्षेत्र में उल्लेखनीय वृद्धि रही, लेकिन सेवा क्षेत्र में गिरावट दर्ज की गई।'

सभी राज्यों की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

RELATED TAG: Pmi, Gst,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो