भारत में 49 फीसदी मोबाइल बाजार पर चाइनीज कंपनियों का हुआ कब्जा, कंपनियों का मुनाफा 180 फीसदी बढ़ा

By   |  Updated On : May 20, 2017 06:37 PM

नई दिल्ली:  

भारतीय मोबाइल बाजार पर तेजी से चीनी कंपनियों का दबदबा बढ़ रहा है। सीएमआर इंडिया के ताजा आंकड़ों के मुताबिक 49 फीसदी भारतीय स्मार्टफोन बाजार पर चीनी कंपनियों का कब्जा हो चुका है।

रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल की तिमाही के मुकाबले इस साल के तिमाही में इन चाइनीज कंपनियों की आमदनी में 180 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई है।

इससे पहले आईडीसी की आई रिपोर्ट में कहा गया था कि चीनी स्मार्टफोन कंपनी शाओमी, वीवो, ओप्पो और लेनेवो लगातार भारतीय बाजार में देशी कंपनियों को चुनौती देते हुए भारतीय बाजार में बढ़त बनाए हुए है।

एक तरफ जहां चाइनीज कंपनियों का रेवेन्यू तेजी बढ़ रहा है वहीं देसी कंपनियों के मुनाफे में लगातार कमी हो रही है। एक रिसर्च फर्म के रिव्यू के मुताबिक 2017 की पहली तिमाही में भारतीय स्मार्टफोन कंपनियों का रेवेन्यू 3 लाख 46 हजार मिलियन रहा जो पिछले साल के मुकाबले 8 फीसदी कम है।

और पढ़ेंकुलभूषण पर फैसले के बाद बौखलाया पाकिस्तान, कहा भारत का परमाणु कार्यक्रम हमारे लिए खतरा

सीएमआर के टेलीकॉम ऐनालिस्ट कृष्णा मुखर्जी ने कहा है, 'स्मार्टफोन के इस दौर में चीनी कंपनियों ने पहले से ही टॉप 5 की लिस्ट से भारतीय कंपनियों को बाहर कर दिया है। आने वाले दिनों में चीनी कंपनियां भारतीय कंपनयों को ओवरऑल मोबाइल हैंडसेट मार्केट से बाहर कर देंगे।'

दक्षिण कोरिया की कंपनी सैमसंग 27 फीसदी चीनी कंपनी शाओमी 9 फीसदी और आईटेल 6 फीसदी के मार्केट शेयर के साथ टॉप पर बने हुए हैं।

मुनाफे के मामले में साउथ कोरिया की कंपनी सैमसंग पहले जबकि चीन की कंपनी शाओमी दूसरे नंबर पर काबिज है। तीसरे नंबर पर भी चीन की ही कंपनी वीवो का कब्जा है।

और पढ़ें: जाधव मामले में इंटरनेशनल कोर्ट में पाकिस्तान की हार के बाद घर में घिरे नवाज

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

अन्य ख़बरे

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो