Breaking
  • सुप्रीम कोर्ट में आधार की अनिवार्यता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर होगी सुनवाई
  • कम विजिबिलिटी के कारण दिल्ली आने वाली 21 ट्रेन लेट, 4 का बदला समय, 13 कैंसल
  • PM मोदी-नेतन्याहू आज गुजरात में करेंगे रोड शो -Read More »

मुंबई: बच्चे को दूध पिला रही महिला समेत कार को उठा ले गई ट्रैफिक पुलिस

  |  Updated On : November 11, 2017 11:39 PM
बच्चे को दूध पिला रही महिला समेत कार को उठा ले गई मुंबई ट्रैफिक पुलिस

बच्चे को दूध पिला रही महिला समेत कार को उठा ले गई मुंबई ट्रैफिक पुलिस

मुंबई:  

मुंबई ट्रैफिक पुलिस का दिल को झकझोर कर रख देने वाला चेहरा सामने आया है। ट्रैफिक पुलिस कर्मी ने एक निजी कार को उठा लिया जिसमें एक बीमार महिला अपने सात महीने के बच्चे को दूध पिला रही थी।

घटना शुक्रवार शाम उत्तर-पश्चिम के उपनगर मलाड (पश्चिम) की व्यस्त एस. वी. रोड की है। घटना का वीडियो एक स्थानीय नागरिक ने बनाया था जिसे महिला का पति बताया जा रहा है। यह वीडियो शनिवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है।

घटना को गंभीरता से लेते हुए मुंबई के संयुक्त आयुक्त (ट्रैफिक) अमितेश कुमार ने पुलिस उपायुक्त - पश्चिम (डीसीपी-पश्चिम)को तुरंत जांच का आदेश दिया है।

कुमार ने शनिवार शाम एक बयान में आश्वासन दिया, 'उन्हें (डीसीपी-वेस्ट) तुरंत इस घटना की जांच करने का आदेश दिया गया है। कल (रविवार) रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद मामले को सही और कड़ाई से निपटा जाएगा।'

और पढ़ें: दिल्ली में प्रदूषण से बदतर हुए हालात, पांचवें दिन भी छायी 'स्मॉग' की चादर

जानकारी के मुताबिक, 20 साल की एक महिला, जिसकी पहचान अभी नहीं हो पाई है। अपने सात महीने के बच्चे के साथ सफेद कार में बैठी हुई थी कि तभी एक गाड़ी उठाने वाली वैन ने अचानक कार को उठाकर ले जाना शुरू कर दिया।

उसने पुलिस कर्मी से अनुरोध किया कि वह गाड़ी को न उठाए (टो)। ट्रैफिक पुलिसकर्मी का नाम शशांक राणे है, जिसने ड्यूटी के दौरान अपने नाम का बिल्ला नहीं पहना था। बिल्ला न पहनना महाराष्ट्र पुलिस के नियमों के खिलाफ है।

इससे पहले, पुलिसकर्मी ने मुस्कुरा कर अपने नाम की पुष्टि की और महिला से गाड़ी को उठाने से पहले वाहन से उतरने का अनुरोध भी किया। 

लेकिन महिला ने अपने बच्चे की नर्सिग करने और खुद को अस्वस्थ बताकर गाड़ी से उतरने से मना कर दिया।

महिला ने खिड़की से एक चिकित्सा विवरण दिखाया था और वीडियोग्राफर को बताया कि वह बीमार है और अपने भूखे बच्चे को स्तनपान करा रही है, जो वीडियो में दिखाई दे रहा था।

महिला ने दावा किया कि वहां खड़े दो अन्य वाहनों को पुलिस ने नहीं उठाया और उनकी कार को उसकी हताशा सुने बिना उठा लिया।

और पढ़ें: यूपी में अब सीएम ऑफिस के बाद सड़क किनारे लगने वाले साइन बोर्ड पर भी चढ़ेगा भगवा रंग

RELATED TAG: Traffic Police, Maharashtra, Mumbai, Breastfeeding, Woman,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो