नीमच में दंपति के सिर पर चप्पल रखकर घुमाया, पेशाब पिलाई

By   |  Updated On : February 17, 2017 11:49 PM

नई दिल्ली:  

देश में आधुनिक न्याय प्रणाली भले ही हो लेकिन भारत के कई गावों में अभी भी मध्यकालीन फैसले सुनाए जा रहे हैं। मध्य प्रदेश के नीमच जिले में बांछड़ा समाज की पंचायत ने फैसला सुनाया। फैसले के बाद जो कुछ भी हुआ वो मानवता के लिये शर्मनाक है।

पंचायत के फैसले के अनुसार एक दंपति को सिर पर चप्पल रखकर न केवल गांव में घुमाया गया, बल्कि कथित तौर पर पेशाब पिलाने का मामला सामने आया है।

इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस ने मामला दर्ज कर सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
नीमच के पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया कि, मनासा थाना क्षेत्र के सावनकुंडी गांव में बांछड़ा समाज के दो वर्गो के बीच विवाद था, उसी के चलते 12 फरवरी को हुई समाज की पंचायत में एक दंपति को सजा सुनाई गई। इसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

सिंह के मुताबिक, पीड़ित दंपति का आरोप है कि पंचायत में सुनाई गई सजा के आधार पर उन्हें सिर पर चप्पल रखकर गांव में घुमाया गया और उसके बाद कथित तौर पर पेशाब पिलाई गई। इस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

और पढ़ें: सूचना आयोग का आदेश, कहा- महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे के बयान को सार्वजनिक किया जाए

और पढ़ें: सपा नेता आज़म ख़ान का विवादित बयान, बोले मुसलमानों के पास काम कम है इसलिए ज़्यादा बच्चे पैदा करते हैं

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

अन्य ख़बरे

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो