मध्य प्रदेश: कर्ज के बोझ से दबे चार किसानों ने तंग आकर की खुदकुशी

केंद्र और मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से किसानों की समस्याओं के समाधन को लेकर किए गए बड़े-बड़े दावों की पोल खुल गई है।

  |   Updated On : May 27, 2018 11:13 AM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

भोपाल:  

केंद्र और मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से किसानों की समस्याओं के समाधन को लेकर किए गए बड़े-बड़े दावों की पोल खुल गई है। पिछले एक हफ्ते में मध्य प्रदेश में कर्ज के बोझ से दबकर तीन किसानों ने आत्महत्या कर ली है।

बताया जा रहा है कि ये सभी किसान कर्ज के बोझ तले दबे हुए थे जिसके बाद इन्होंने अपनी जान दे दी। बैतूल में जहां दो किसानों की मौत हो गई वहीं तीसरा सूखाग्रस्त इलाका छतरपुर और चौथा मामला टीकमगढ़ का है।

बताया जा रहा है कि किसानों ने कर्ज लेकर फसल बोए थे और उपजने के बाद उन्हें सही कीमत नहीं मिल रही है। पिछले कुछ दिनों से राज्य में ऐसे कई मामले देखने को मिले हैं।

उपज की सही कीमत नहीं मिलने की वजह से किसान कर्ज नहीं चुका पा रहे थे और उन्हें कर्ज देने वालों की तरफ से परेशान किया जा रहा था।

सभी राज्यों की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Sunday, May 27, 2018 10:59 AM

RELATED TAG: Loan Waiver, Farmer Suicide, Madhya Pradesh,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो