श्रीनगर: चोटी काटने के विरोध में अलगाववादी करेंगे प्रर्दशन, सुरक्षा के मद्देनजर लगा प्रतिबंध

जम्मू एवं कश्मीर प्रशासन ने अलगाववादियों के आहूत विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर प्रतिबंध लगाया है।

  |   Updated On : October 13, 2017 10:09 AM

ख़ास बातें
  •  अलगाववादियों के आहूत विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर प्रतिबंध लगाया है
  •  चोटी काटने की घटनाओं के विरोध में होगा ये प्रदर्शन

नई दिल्ली:  

जम्मू एवं कश्मीर प्रशासन ने अलगाववादियों के आहूत विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर प्रतिबंध लगाया है। अलगाववादियों ने राज्य में चोटी काटने की घटनाओं के विरोध में विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है।

पुलिस ने बताया कि खानयार, रैनवाड़ी, नौहट्टा, एम.आर.गंज, सफा कडाल, मैसूमा और क्रालखुद में प्रतिबंध लगाया गया है। कश्मीर के विभागीय आयुक्त बशीर खान ने शुक्रवार को घाटी में सभी स्कूलों और कॉलेजों को बंद करने का आदेश दिया।

कश्मीर विश्वविद्यालय में लगातार दूसरे दिन भी पढ़ाई नहीं होगी। अलगाववादियों ने जुमे की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शनों का आह्वान किया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पिछले महीने के दौरान घाटी के विभिन्न भागों में चोटी काटने के लगभग 100 मामले सामने आए हैं। चोटी काटने की घटनाओं के संदेह में गांवों और कस्बों में भीड़ द्वारा कई निर्दोष लोगों को पीटा गया है।

पुलिस अब तक इन घटनाओं में शामिल किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार करने में कामयाब नहीं हुई है।

इसे भी पढ़ें: भूख की सूची में भारत बांग्लादेश और नेपाल से भी पीछे

First Published: Friday, October 13, 2017 10:02 AM

RELATED TAG: Ammu And Kashmir,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो