अवमानना की सजा के दोषी जस्टिस कर्णन की याचिका स्वीकार करने से SC का इनकार

By   |  Updated On : May 19, 2017 08:56 PM
जस्टिस सी एस कर्णन (फाइल फोटो)

जस्टिस सी एस कर्णन (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  सुप्रीम कोर्ट ने कलकत्ता हाई कोर्ट के जस्टिस सी एस कर्णन की याचिका को स्वीकार करने से मना कर दिया है
  •   कलकत्ता हाई कोर्ट के जस्टिस सी एस कर्णन ने अवमानना की सजा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है

New Delhi:  

सुप्रीम कोर्ट ने कलकत्ता हाई कोर्ट के जस्टिस सी एस कर्णन की याचिका को स्वीकार करने से मना कर दिया है। कलकत्ता हाई कोर्ट के जस्टिस सी एस कर्णन ने अवमानना की सजा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।

हालांकि सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री ने इस याचिका को स्वीकार करने लायक भी नहीं माना है। सुप्रीम कोर्ट ने सी एस कर्णन अवमानना के मामले में छह महीने की सजा सुनाई है।

सुप्रीम कोर्ट की तरफ से सजा किए जाने के बाद जस्टिस कर्णन को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। इससे पहले कर्णन ने सुप्रीम कोर्ट के दिए सजा के खिलाफ राष्ट्रपति के पास दया याचिका दाखिल की थी।

और पढ़ें: जस्टिस कर्णन ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर की

जस्टिस कर्णन को सुप्रीम कोर्ट के अवमानना के मामले में 6 महीने की सजा सुनाई गई है। कर्णन के सलाहकार रमेश कुमार ने बताया दया याचिका बुधवार को राष्ट्रपति के पास दायर की गई है। ये याचिका आर्टिकल 72 1बी के तहत दायर की गई है।

याचिका में दलील दी गई है कि जस्टिस कर्णन जून में रिटायर हो रहे हैं। ऐसे में अगर उन्हें सजा मिलती है तो रिटायर होने के बाद जो उन्हें वित्तीय लाभ मिलेंगे उसमें देरी होगी जिससे उन्हें दिक्कत होगी।

और पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट का जस्टिस कर्णन की याचिका सुनने से इनकार, अवमानना के मामले में छह महीन की सजा सुना चुका है कोर्ट

RELATED TAG: C S Karnan, Calcutta High Court,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो