सुप्रीम कोर्ट के जज नवीन सिन्हा ने सीबीआई निदेशक अस्थाना के खिलाफ सुनवाई से खुद को किया अलग

  |   Updated On : November 14, 2017 12:04 AM
राकेश अस्थाना, सीबीआई विशेष निदेशक (फाइल फोटो)

राकेश अस्थाना, सीबीआई विशेष निदेशक (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

सुप्रीम कोर्ट के जज नवीन सिन्हा ने गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना की सीबीआई जांच में विशेष निदेशक के रूप में नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई से खुद को अलग कर लिया।

यह तब हुआ जब जस्टिस रंजन गोगोई और नवीन सिन्हा की एक बेंच के सामने सुनवाई के लिए यह मामला सामने आया और जज नवीन सिन्हा ने खुद को बिना कारण बताए इस मामले की सुनवाई से अलग कर लिया।

पीठ ने कहा कि यह मामले 17 नवंबर को उपयुक्त पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया जाएगा। यह याचिका वरिष्ठ वकील द्वारा एक एनजीओ के माध्यम से दायर की गई है।

SC ने जेपी इंफ्रा के निदेशकों की संपत्ति की जानकारी मांगी

याचिका में आरोप लगाया गया है कि राकेश अस्थाना की नियुक्ति का फैसला "अवैध" और "गलत" था। इस याचिका में दावा किया गया है कि सीबीआई एक ऐसे मामले की जांच कर रही है जिसमें अस्थाना का नाम शामिल है।

याचिका में अस्थाना की नियुक्ति रद्द करने की मांग की गई है साथ ही केंद्र को निर्देश देने की बात कही है कि उनके जांच में शामिल होने के चलते एजेंसी से बाहर स्थानांतरित किया जाए।

याचिका में दावा किया गया है कि सरकार और चयन समिति ने सीबीआई निदेशक की राय का खंडन करते हुए कानून का उल्लंघन किया था।

निर्भया मामला: SC ने कहा- एक साथ सुनेंगे पुनर्विचार याचिकाएं

साथ ही याचिका में कहा गया है कि सीबीआई में निदेशक के बाद विशेष निदेशक सीबीआई में दूसरा सबसे बड़ा पद है, और यह एजेंसी द्वारा संभाले जा रहे सभी महत्वपूर्ण केसों की निगरानी करता है।

यह भी पढ़ें: 'टाइगर जिंदा है' का पैक-अप, सलमान खान ने शेयर किया 'रेस 3' का फर्स्ट लुक

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

RELATED TAG: Cbi, Rakesh Asthana, Prashant Bhushan, Supreme Court,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो