Breaking
  • जीएसटी परिषद ने ई-वे बिल को लागू करने की दी मंजूरी

राहुल गांधी पर बिफरे रविशंकर प्रसाद, कहा- 'हिंदू आतंकवाद' की रचना करने वाली कांग्रेस अवसरवादी

  |  Updated On : November 28, 2017 11:49 PM
ख़ास बातें
  •  राहुल गांधी के हगप्लोमेसी के बयान पर बीजेपी ने किया पलटवार 
  •  रविशंकर प्रसाद बोले- राहुल को आंतक की समझ नहीं 
  •  हिंदू आतंकवाद' की रचना करने वाली कांग्रेस अवसरवादी- रविशंकर

अहमदाबाद:  

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार को अहमदाबाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल को आतंक की समझ नहीं है। उन्होने कहा कि 'हिंदू आतंकवाद' की रचना करने वाली कांग्रेस अवसरवादी है।

रविशंकर ने कहा, 'हाफिज सईद को लेकर बोलने वाले राहुल के कारण ही विदेशी मीडिया ने हिंदू आतंकवाद को बेहद गंभीर और खतरनाक बताया था।'

उन्होंने कहा,'2010 में हिलेरी क्लिंटन की यात्रा के दौरान राहुल ने टिम रोमर से मुंबई हमले पर पाकिस्तान को घेरने की बजाय 'हिन्दू टेरर' पर बात की। इस कारण पहले विकीलीक्स ने फिर गार्डियन ने रिपोर्ट छाप कर भारत को हिन्दू टेरर ग्रस्त देश बताया।'

यह भी पढ़ें: SC ने खारिज की CBI स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना की नियुक्ति पर दायर याचिका

रविशंकर ने कहा कि राहुल के कारण ही अमेरिकी राजदूत ने लिखा था कि भारत में भगवा आतंकियों का जोर है और तत्कालीन गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का भी नाम इसमें जोड़ा गया था।

सर्जिकल स्ट्राइक पर बोलते हुए उन्होंने कहा, 'जिस सर्जिकल स्ट्राइक की दुनिया भर मे चर्चा और तारीफ हुई उसको लेकर राहुल गांधी सेना से सबूत मांग रहे हैं। राहुल गांधी को शर्म आनी चाहिए।'

रविशंकर ने कहा कि ये सरकारों के बीच का ही फर्क है, 'पहले दुश्मन की सेना सीमा में घुसकर सर काटकर ले जाती थी और हमारे जवानों को पहले चलने का भी आदेश नहीं था। आज हमारे सैनिक सीमा में घुस कर उनका टेरर कैंप बर्बाद कर आते हैं।' 

उन्होंने निशाना साधते हुए कहा कि कॉग्रेस ने हमेशा सेना का मनोबल गिराने का काम किया है।'

यह भी पढ़ें- हैदराबाद: GES में हिस्सा लेगी इवांका ट्रंप, सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद

RELATED TAG: Ravishankar Prasad, Rahul Gnadhi, Hindu Terror,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो