राहुल गांधी का आरोप, पीएम बनने से पहले मोदी ने सहारा से लिए थे 40 करोड़ रूपये; पूछा जांच क्यों नहीं कराते?

By   |  Updated On : December 21, 2016 06:50 PM
ANI

ANI

नई दिल्ली:  

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी के गृहजिले मेहसाणा में चुनावी रैली के दौरान केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया। गांधी ने काले धन पर सवाल उठाते हुए कहा स्विस बैंक ने मोदी सरकार को काला धन रखने वाले सभी खाताधारकों के नाम बता दिए हैं। फिर भी मोदी सरकार उन लोगों का नाम नहीं बता रही? आखिर केंद्र सरकार चोरों को क्यों बचा रही है?

राहुल ने नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा, 'सहारा ने बीते 6 महीने में मोदी को 9 बार पैसे दिए। सहारा के यहां रेड पड़ी थी। वहां से बरामद हुए रिकॉर्ड में इसका जिक्र था।'

राहुल गांधी के आरोप को अगर सही माना जाये तो अब तक सहारा ने नरेन्द्र मोदी को 40 करोड़ रूपये दिये हैं।

राहुल ने कहा, 'सहारा कंपनी पर रेड हुई। सहारा के रिकॉर्ड में लिखा था। 30 अक्टूबर 2013 ढाई करोड़ रुपए मोदी जी को दिया। इसके बाद 12 नवंबर 2103 को पांच करोड़, 27 नवंबर को ढाई करोड़, 29 नवंबर को भी ढाई करोड़। 6 दिसंबर को 5 करोड़, 19 दिसंबर पांच करोड़, 13 जनवरी दो करोड़, इसके बाद कुल नौ बार पैसे दिए गए।

6 महीने में 9 बार सहारा ने मोदी को पैसे दिए। और ये एक डायरी में लिखा है।'

राहुल ने सवाल पूछते हुए कहा, मोदी जी बताइए, इन पेपर्स पर आईटी के दस्तखत है। इन पर ढाई साल के दौरान जांच क्यों नहीं हुई? 9 बार ये पैसा दिया गया है। आपने पूरे देश को लाइन में रखा, पूरे देश की ईमानदारी पर सवाल उठाया। अगर ये सच है तो इसकी जांच कब होगी?

राहुल ने बताया, ऐसे ही एक रिकॉर्ड बिरला कंपनी का है जिसमें साफ़ लिखा है कि Gujarat CM को 25 करोड़-12 करोड़ हो गए।

राहुल ने कहा, ये फैसला काले धन और भ्रष्टाचार को ख़त्म करने के लिए नहीं लिया गया। बल्कि ये फैसला ईमानदार ग़रीबों के खि़लाफ़ है। काला धन हिंदुस्तान के 1% लोगों के पास है। केवल 6 फीसदी काला धन कैश में है। 94 फीसदी ब्लैक मनी हीरे, सोने, जमीन के रूप में और विदेशों में है। जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार है, वहां आदिवासियों की आवाज उठाने वाले को गोली मार दी जाती है।

राहुल गांधी ने आगे कहा कि मोदी जी ने काले धन के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया बल्कि उन्होंने गरीबों पर फायर बॉम्बिंग की है। नोटबंदी का लक्ष्य गरीबों से पैसा खींचो और अमीरों को पैसा सींचो है। सभी कैश काला धन नहीं है और सारा काला धन कैश में नहीं है। आज किसान खेती के लिए बीज नहीं खरीद पा रहा है। मोदी जी ने किसानों से कैश छीन लिया है।

उन्होंने कहा कि गुजरात में भाजपा सरकार दलितों को मारती है। दलित राज्य में डरकर रहते हैं। पाटीदारों ने शांति से अपना आंदोलन किया। उन्होंने हिंसा किसी से नहीं की। लेकिन सरकार ने उनके महिलाओं और बच्चों को मारा।

राहुल ने कहा कि जब कोई किसान या फिर आम आदमी बैंक से लिया लोन नहीं चुका पाता है तो उसे जेल में डाल दिया जाता है। लेकिन अगर ऐसा काम कोई अमीर आदमी करता है तो उसे डिफॉल्टर घोषित कर दिया जाता है।

अगर कोई गरीब या आम आदमी लोन लेकर नहीं चुकाता है तो उसे जेल में डाल दिया जाता है लेकिन जब यही काम कोई अमीर करता है तो उसे चोर कहने की बजाय डिफॉल्‍टर कहते हैं।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे