'कांग्रेस मुक्त भारत' की तरफ बीजेपी ने बढ़ाया एक और कदम!

  |   Updated On : December 18, 2017 10:55 PM
'कांग्रेस मुक्त भारत' की तरफ बीजेपी ने बढ़ाया एक और कदम! (फाइल फोटो-PTI)

'कांग्रेस मुक्त भारत' की तरफ बीजेपी ने बढ़ाया एक और कदम! (फाइल फोटो-PTI)

नई दिल्ली:  

गुजरात और हिमाचल प्रदेश में 'भगवा लहर' के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 'कांग्रेस मुक्त भारत' की तरफ एक कदम और आगे बढ़ा लिया है। बीजेपी लगातार छठी बार गुजरात में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रही है। वहीं हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने 'कांग्रेस' के हाथ से सत्ता छीन लिया है।

इस जीत के साथ ही 'कांग्रेस मुक्त भारत' का नारा देने वाली बीजेपी की 20 राज्यों में सरकार बन गई है। वहीं कांग्रेस के पास अब केवल चार राज्यों कर्नाटक, पंजाब, मिजोरम मेघालय और एक केंद्र शासित प्रदेश में सरकार है।

दरअसल, 2014 लोकसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत हासिल करने के बाद से बीजेपी 'मोदी लहर' पर सवार है। आम चुनाव के बाद से 18 राज्यों में चुनाव हो चुके हैं, जिनमें से 11 में बीजेपी जीती है। वहीं, कांग्रेस को सिर्फ दो राज्यों (पंजाब और एक केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी) में सरकार बनाने में कामयाबी मिली।

गुजरात, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, गोवा, हरियाणा, झारखंड, मध्य प्रदेश, मणिपुर, महाराष्ट्र, राजस्थान, बिहार, आंध्र प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, सिक्किम और नागालैंड में बीजेपी की सरकार है। इनमें से 14 राज्यों में बीजेपी के पास पूर्ण बहुमत है जबकि अन्य पांच राज्यों में वह गठबंधन के सहारे सत्ता में है।

पीएम मोदी ने लोक सभा चुनाव प्रचार के दौरान 'कांग्रेस मुक्त भारत' का नारा दिया था। जिसके बाद से भारतीय जनता पार्टी इसी एजेंडे के साथ लगातार राज्यों में पांव पसार रही है। दक्षिण भारत हो या पूर्वोत्तर का राज्य हर जगह बीजेपी ने अपने जनाधार मजबूत किये हैं। 2014 लोकसभा चुनाव तक जहां बीजेपी की पूर्वोत्तर के एक भी राज्यों में सरकार नहीं थी आज वह अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, सिक्किम और नागालैंड में सरकार बना चुकी है।

और पढ़ें: गुजरात-हिमाचल फतह के बाद बोले PM मोदी, नतीजे GST पर जनादेश

बीजेपी का अगला मिशन मिजोरम और मेघालय है। दोनों राज्यों का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 दिसंबर को दौरा किया था और उन्होंने राज्य को 'कांग्रेस मुक्त' करने की बात की। मिजोरम और मेघालय में अगले साल की शुरुआत में चुनाव होंगे।

हालांकि कांग्रेस अध्यक्ष पद संभालते ही राहुल ने बीजेपी के 'कांग्रेस मुक्त भारत' मिशन के खिलाफ लड़ाई की बात कही। लेकिन चुनाव के नतीजे ने साफ कर दिया है कि फिलहाल कांग्रेस के लिए राहत की खबर नहीं है।

और पढ़ें: ममता बोलीं- गुजरात में मोदी की 'नैतिक हार', अखिलेश ने कहा, बीजेपी की 'तथाकथित जीत'

मोदी द्वारा 'कांग्रेस मुक्त भारत' कहने पर इशारा करते हुए राहुल ने 16 दिसंबर को कहा था, 'कांग्रेस बीजेपी को अपना भाई और बहन मानती है, यद्यपि वे हमसे सहमत नहीं होंगे।'

राहुल ने कहा, 'वे कांग्रेस मुक्त भारत चाहते हैं, वे हमें मिटाना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस सभी भारतीयों की इज्जत करती है, यहां तक कि बीजेपी की भी। हम नफरत के साथ नफरत से नहीं लड़ना चाहते हैं। कांग्रेस ने हमेशा अपनी चुनौतियों व संघर्षो का प्यार व स्नेह से सामना किया है। वे आवाज कुचलेंगे, हम सबसे कमजोर को बोलने की इजाजत देंगे। वे हमारा तिरस्कार करेंगे, हम इज्जत करेंगे और खुद का बचाव करेंगे।'

और पढ़ें: गुजरात में छठी बार बीजेपी सरकार, सीटें घटी-जनाधार बढ़ा

RELATED TAG: Pm Modi, Bjp, Congress, Gujarat, Himachal Pradesh, Election,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो