मिशन 2019! पूर्वांचल के दौरे पर पीएम मोदी, एक्सप्रेस वे का करेंगे शिलान्यास

  |   Updated On : July 14, 2018 08:28 AM
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को दो दिनों के पूर्वांचल दौरे पर पहुंचकर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे के साथ-साथ आजमगढ़ में 340 किलोमीटर लंबी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की आधारशिला रखेंगे।

2019 लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी, आजमगढ़ और मिर्जापुर के दौरे पर कई रैलियों के संबोधन के साथ-साथ कई विकास कार्यों का उद्घाटन करेंगे।

बता दें कि 80 लोकसभा सीट वाले राज्य उत्तर प्रदेश चुनावी दृष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण रहने वाला है। एक सप्ताह के अंदर पीएम मोदी का उत्तर प्रदेश में दूसरा दौरा है। बीते सोमवार को प्रधानमंत्री ने नोएडा में सैमसंग मोबाइल फैक्ट्री का उद्घाटन किया था।

बताया जा रहा है कि सिर्फ वाराणसी में पीएम मोदी 1000 करोड़ रुपये की योजनाओं का शिलान्यास करेंगे।

शनिवार शाम को वाराणसी पहुंचने के बाद पीएम हेलीकॉप्टर से आजमगढ़ पहुंचेंगे जहां वो एक्सप्रेस वे की आधारशिला रखेंगे। हालांकि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दावा किया है कि उनकी सरकार ने दिसंबर 2016 में ही इसकी आधारशिला रख दी थी।

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने इस एक्सप्रेस के लिए उनकी पार्टी का जिक्र नहीं करने के कारण एक दिन पहले विरोध प्रदर्शन भी किया।

6-लेन वाली एक्सप्रेस वे के बनने से राजधानी लखनऊ और पूर्वी उत्तर प्रदेश के गाजीपुर के बीच आवागमन आसान हो जाएगा। लोकसभा चुनाव को लेकर पूर्वांचल में बीजेपी इसे लेकर भुनाने की कोशिश करेगी।

अधिकारी के मुताबिक, 23,000 करोड़ रुपये की योजना वाला यह एक्सप्रेस वे तीन सालों में बनकर तैयार हो जाएगा।

शिलान्यास के बाद पीएम मोदी एक जनसभा को संबोधित करेंगे और फिर से वाराणसी आएंगे। जहां वे कचनार गांव में एक और जनसभा को संबोधित करेंगे और बीजेपी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे।

रविवार को मिर्जापुर में भी पीएम मोदी एक जनसभा को संबोधित करेंगे। वहां वे बंसागर कैनल प्रोजेक्ट का उद्घाटन करेंगे और मिर्जापुर मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखेंगे।

वाराणसी में 1,000 करोड़ रुपये के प्रोजक्ट में सड़क मरम्मत योजनाएं, टाउन हॉल की रिमॉडलिंग, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, एक कैंसर अस्पताल, बीपीओ सेंटर और बलिया के लिए एक नई ट्रेन सेवा भी शामिल है।

और पढ़ें: जेटली का तंज- कांग्रेस ने गरीबों को सिर्फ नारा दिया, मोदी ने संसाधन

पीएम मोदी की इस रैली में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और राज्य कैबिनेट के मंत्री सहित केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, मनोज सिन्हा और धर्मेंद्र प्रधान भी शामिल होने वाले हैं।

2019 लोकसभा चुनाव की पूरी तैयारी

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव 2019 में सिर्फ 9 महीने का वक्त बाकी रह गया है जिसके कारण बीजेपी उत्तर प्रदेश में राजनीतिक गोलबंदी के जरिये अपनी जमीन तैयार करने में पूरी तरह जुट गई है।

पीएम मोदी आगामी लोकसभा चुनाव से पहले फरवरी, 2019 तक देश भर में 100 लोकसभा क्षेत्रों में ताबड़तोड़ 50 रैलियों को संबोधित करने वाले हैं।

ये सभी रैलियां पार्टी के प्रचार के लिए जमीन तैयार करने का हिस्सा है। हर रैली को इस तरह से डिजाइन किया गया है ताकि इससे 2-3 लोकसभा क्षेत्रों को जोड़ा जाएगा।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि इस तरह का अभ्यास संगठन को चुनावी मोड में लाने के लिए तैयार किया जा रहा है और बीजेपी प्रचार के लिए एक प्लैटफॉर्म तैयार करेगी।

बता दें कि हालिया उप-चुनावों में बीजेपी को मिली हार से पार्टी एक बार फिर पीएम मोदी की 'लोकप्रियता' के सहारे चुनाव लड़ने जा रही है। अगले चुनाव में बीजेपी के लिए एक बड़ी चुनौती विपक्षी दलों की एकता होगी।

और पढ़ें: 2019 से पहले साम्प्रदायिक तनाव पैदा हुआ तो कांग्रेस ज़िम्मेदार: बीजेपी

RELATED TAG: Pm Modi, Pm Modi In Up, Narendra Modi, Uttar Pradesh, Varanasi, Azamgarh, Purvanchal Expressway, Bjp,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो