Breaking
  • गुजरात की 182 और हिमाचल की 68 सीटों पर वोटों की गिनती शुरू
  • दिल्ली: कोहरे और धुंध के चलते 15 ट्रेन लेट और 12 कैंसिल हुईं

पनामा पेपर्स: दिल्ली-एनसीआर में 25 ठिकानों पर छापा, 4 करोड़ का कैश-ज्वेलरी जब्त

  |  Updated On : November 29, 2017 03:04 AM

नई दिल्ली:  

टैक्स चोरी मामले में पनामा पेपर के खुलासे के बाद मंगलवार को आयकर विभाग ने दिल्ली और एनसीआर में 25 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी की। आयकर विभाग को छापेमारी में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है।

दिल्ली इनवेस्टिगेशन डायरेक्टरेट ने जिन ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाया, वे तीन अलग-अलग समूह के लोगों के हैं. इसमें एक समूह मेटल ट्रेडिंग और फूड प्रोसेसिंग से जुड़ा है, जबकि दूसरा फाइनैन्सिंग और तीसरा टायर के कारोबार से जुड़ा है। इस छापेमारी में दिल्ली, गाजियाबाद में करीब चार करोड़ नकद और गहने जब्त किए गए हैं।

और पढ़ें: ट्रंप ने पाकिस्तान को हाफिज सईद की रिहाई का खामियाजा भुगतने की दी चेतावनी

आयकर विभाग ने जहां छापेमारी की है उन कारोबारी घरानों का नाम पनामा पेपर्स में सामने आया था। इन पर अपने वास्तविक टर्नओवर और आमदनी की जानकारी को छुपाने का आरोप है।

एक साल पहले वाशिंगटन स्थिति इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इंवेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट (आईसीआईजे) ने पनामा पेपर्स का खुलासा किया था। उस समय सीबीडीटी ने कहा था कि कुल 426 मामलों में से 147 मामले कार्रवाई के योग्य हैं।

साल 2016 में अमेरिका स्थिक एक एनजीओ और खोजी पत्रकारों के अंतर्राष्ट्रीय महासंघ ने पनामा पेपर का खुलासा किया था। पनामा खुलासे में शरीफ के अलावा कई फिल्मी और खेल जगत की हस्तियों समेत करीब 140 लोगों की संपत्ति का भी खुलासा हुआ था।

दस्तावेजों के खुलासे में 500 भारतीयों के नाम भी शामिल होने की बात सामने आई थी। जांच में जो डेटा सामने आया वह साल 1977 से लेकर 2015 तक लगभग 40 सालों का है।

और पढ़ें: हाफिज की रिहाई से नाराज भारत, कहा-आतंकियों को मुख्य धारा में शामिल करने की साजिश रच रहा पाकिस्तान

RELATED TAG: Panama Papers, Delhi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो