Breaking
  • राहुल बोले, भारत में असहिष्णुता से विदेशों में छवि बिगड़ी, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • पाकिस्तान ने कहा, भारत से निपटने के लिए कम दूरी के परमाणु हथियार तैयार, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • बेंगलुरू: आयकर विभाग ने कर्नाटक के पूर्व सीएम एसएम कृष्णा के दामाद के ठिकानों पर मारा छापा

कश्मीर पर है पाकिस्तान की नज़र, दहशत फैलाने के लिए बना रहा नया आतंकी संगठन

By   |  Updated On : May 20, 2017 01:12 PM
पाकिस्तान घाटी में दहशत फैलाने की कर रही है तैयारी

पाकिस्तान घाटी में दहशत फैलाने की कर रही है तैयारी

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान कश्मीर घाटी में अशांति फैलाने के लिए एक नई रणनीति पर विचार कर रहा है।

बता दें कि हाल के दिनो में अलगाववादी नेताओं और वहां मौजूद आतंकियों के बीच दरार बढ़ा है। जिसका फ़ायदा उठाते हुए पाकिस्तान घाटी में आतंक फैलाने के लिए किसी नए संगठन को खड़ा करने फिराक में जुटा है। जानकारी मिली है कि पाकिस्तान मूसा के ज़रिए घाटी में आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ाने की फिराक में है। 

हाल ही में मूसा ने अलगाववादी नेताओं के गुट हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेताओं को जान से मारने की धमकी दी थी। हालांकि हिज़बुल संगठन ने ख़ुद को मूसा के बयान से अलग कर लिया। जिसके बाद हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर जाकिर मूसा ने कथित तौर पर अपने संगठन से बगावत करते हुए अलग होने की घोषणा कर दी।

हाल के दिनों में सोशल मीडिया पर दोनों के बीच जिस तरह बयानबाजी तेज़ हुई है वो इशारा करता है कि इनके बीच में दरार पड़ चुकी है।

ये भी पढ़ें- एयरफोर्स चीफ़ मार्शल बी एस धनोवा ने 12000 अफसरों को ख़त लिखकर ऑपरेशन के लिए तैयार रहने का दिया संदेश

एक अधिकारी ने कहा, 'पाकिस्तान द्वारा कश्मीर में एक नए आतंकी संगठन को प्रोत्साहित किए जाने की आशंकी काफी मजबूत नजर आ रही है। मूसा अलगाववादियों, हिज्बुल और यहां तक कि पाकिस्तान के खिलाफ भी बोल रहा है। उसका फोकस कश्मीरी युवाओं पर है। वह कश्मीर की आजादी के लिए इस्लामिक उदय की वकालत कर रहा है।'

संबंधित सूत्रों ने बताया कि जाकिर मूसा ने पिछले दिनों कुछ पुराने आतंकी कमांडरों के अलावा जिहादी मानसिकता वाले कुछ मजहबी नेताओं से मुलाकात की है। इसमें कश्मीर में निजाम-ए-मुस्तफा की बहाली की जंग को जारी रखने का फैसला करते हुए नया संगठन बनाने का फैसला किया गया है। बैठक में कई सक्रिय आतंकी भी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें- क्या जाकिर नाइक को सऊदी की नागरिकता मिल गई है?

बैठक में तय किया गया कि नए जिहादी संगठन में शामिल आतंकी किसी भी हुर्रियत नेता के पीछे नहीं चलेंगे और न किसी अलगाववादी संगठन की विचारधारा पर काम करेंगे। वह सिर्फ निजाम-ए-मुस्तफा और इस्लाम का नारा देते हुए कश्मीर में इस्लामिक राज की बहाली के लिए अपनी कार्रवाई जारी रखेंगे। गौरतलब है कि जाकिर मूसा पिछले साल जुलाई में आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर में हिज्ब का चेहरा बना हुआ था।

आईपीएल 10 की हर बड़ी खबर के लिए यहां क्लिक करें

RELATED TAG: Zakir Musa, Pakistan, Hizbul Mujahideen,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो