Breaking
  • Ind VS Aus: कुलदीप यादव ने लिया हैट्रिक, मैथ्यू वेड, एस्टन एगर और पैट कमिंस को भेजा पवेलियन
  • यूपी: नोएडा सेक्टर-110 में तीन कर्मचारियों की सीवर सफाई के दौरान हुई मौत
  • जम्मू-कश्मीर के अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान ने तोड़ा सीज़फायर, बीएसएफ दे रही है जवाब
  • हाई कोर्ट के फैसले से बिफरी ममता, 'मुझे नहीं बताएं क्या करना है' -Read More »
  • अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए 500 अरब रुपये खर्च करेगी मोदी सरकार -Read More »

सीज़फायर उल्लंघन पर पाक ने भारतीय उप उच्चायुक्त को किया समन

By   |  Updated On : September 14, 2017 10:38 PM

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान विदेश विभाग ने कथित संघर्ष विराम के उल्लंघन में दो नागरिकों के मारे जाने के बाद इस्लामाबाद स्थित भारत के उप उच्चायुक्त जे.पी. सिंह को समन भेजा है। उसने भारतीय सेना की इस कार्रवाई की निंदा भी की है।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर आरोप लगाया है कि भारतीय सेना की तरफ से किये गए संघर्ष विराम के उल्लंघन के कारण दीवाड़ा और काक्रान गांव में दो लोगों की मौत हुई है और तीन लोग घायल हो गए।

पाकिस्तान के आधिकारिक बयान में कहा गया है, 'संयम बरतने अपील के बावजूद, भारत लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है। 2017 से अब तक, भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा और कार्य सीमा पर 700 से ज्यादा बार संर्घष विराम का उल्लंघन किया है, जिसके परिणामस्वरूप इस गोलीबारी में 32 निर्दोष नागरिकों की मौत हो चुकी है और 382 लोग घायल हो गए है।'

और पढ़ें: भारत-जापान नज़दीकी से भन्नाया चीन, बोला- गठबंधन नहीं साझेदारी बढ़ाओ

विदेश विभाग ने ने कहा है कि उन्होंने भारत से 2003 में संघर्ष विराम संधि का सम्मान करने और संघर्ष विराम की घटनाओं की जांच करने के लिए आग्रह किया है।

बयान में कहा गया है कि भारतीय राजनयिक को यह भी बताया गया था कि भारत को भारत और पाकिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सैन्य पर्यवेक्षक समूह को अपनी अनिवार्य भूमिका निभाने के लिए जम्मू और कश्मीर दौरे की अनुमति देनी चाहिए।

और पढ़ें: केंद्र रोहिंग्या मुसलमानों पर SC में दाखिल हलफनामे में करेगा बदलाव

RELATED TAG: Pakistan, India, Ceasefire Violation,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो