आतंक और हिंसा युक्त माहौल में पाकिस्तान से बातचीत संभव नहीं : मोदी सरकार

  |   Updated On : March 13, 2018 06:20 PM
गृह राज्य मंत्री हंसराज अहिर (फाइल फोटो)

गृह राज्य मंत्री हंसराज अहिर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव को लेकर आज लोकसभा में मोदी सरकार ने साफ कर दिया कि पड़ोसी से कोई भी बातचीत आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण में ही संभव है।

इसके साथ ही केंद्र सकरार ने यह भी कहा है कि सीमा पार से भारत में फैलाये जा रहे आतंकवाद का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए कड़े और निर्णायक कदम उठाये जाते रहेंगे।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहिर ने संसद में कहा कि दोनों देशों के बीच बातचीत के लिए अनुकूल माहौल बनाने की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर है।

उन्होंने कहा, पाकिस्तान को यह साफ कर दिया गया है कि भारत पड़ोसी देश से सभी मुद्दों को द्विपक्षीय और शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध है लेकिन किसी भी अर्थपूर्ण बातचीत के लिए आतंक, दुश्मनी और हिंसा से मुक्त माहौल होना जरूरी है।

सरकार ने लोकसभा में कहा कि बातचीत के लिए अनुकल माहौल बनाने की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर है और जबतक आतंकवाद जारी रहेगा भारत कड़ा जवाब देने के लिए निर्णायक कदम उठाता रहेगा।

और पढ़ें- जया विवाद: नरेश अग्रवाल पर भड़की रेणुका चौधरी, कहा- अवसरवादी होना मर्द की पहचान नहीं

अहिर ने यह बयान लोकसभा में भारत-पाकिस्तान से संबंधित एक सवाल के जवाब में दिया।

उन्होंने अपने लिखित जवाब में बताया, दोनों देश के बीच अर्थपूर्ण बातचीत के लिए भारत सरकार ने स्थापित चैनलों डीजीएमओ, सीमा सुरक्षा दल के साथ ही राजनयिक माध्यमों से भी सीमापार से होने वाले आतंकवाद और घुसपैठ का विरोध किया है।

और पढ़ें: न्यूनतम बैलेंस पर लगने वाली पेनाल्टी में SBI ने की 75% तक की कटौती

RELATED TAG: Lok Sabha, Parliament Of India, Kashmir Conflict,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो