Breaking
  • हरियाणा: 20 साल की लड़की के साथ गैंगरेप, दो आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज
  • शेयर बाज़ार में गुरुवार को भी छाई तेज़ी, सेंसेक्स 350 अंक ऊपर निफ्टी 10800 स्तर चढ़ा
  • बजट से पहले आज GST काउंसिल की बैठक में किसानों को मिल सकती है बड़ी राहत -Read More »
  • पीएम नेतन्याहू 26/11 हमले में मारे गए लोगों को देंगे श्रद्धांजलि -Read More »
  • त्रिपुरा, मेघालय, नागालैंड चुनाव: आयोग आज करेगा चुनाव शेड्यूल की घोषणा
  • सुप्रीम कोर्ट में आधार मामले में आज दूसरे दिन होगी सुनवाई
  • दिल्ली में आज होगी GST काउंसिल की 25वीं बैठक, वित्तमंत्री अरुण जेटली करेंगे अध्यक्षता
  • दिल्ली-एनसीआर में कोहरे का कहर, कई उड़ानें प्रभावित, ट्रेनें कैंसिल
  • पद्मावत पर कुछ राज्यों में बैन पर आज होगी सुनवाई
  • मुंबई: आज उद्योगपतियों से मिलेंगे इजरायली पीएम नेतन्याहू

नीतीश ने तेजस्वी का सरकारी बंगला रखने का आग्रह ठुकराया, सुशील मोदी रहेंगे उसमें

  |  Updated On : September 15, 2017 10:21 PM

नई दिल्ली:  

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद के छोटे बेटे तेजस्वी यादव के सरकारी बंगले में रहने देने के निवेदन को खारिज कर दिया है।

बिहार के पवर्तमान मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को 5, देशरत्न मार्ग स्थित तेजस्वी यादव का बंग्ला अलॉट किया गया है।

बिहार के 14 नए मंत्रियों को बंगला देने का फैसला अगस्त में किया गया है। जिसमें एलजेपी और बीजेपी के कोटे ससे आए मंत्री रहेंगे।

बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन मंत्री महेश्वर हजारी ने कहा, 'आधिकारिक आदेश में अब किसी के लिये कोई परिवर्तन नहीं किया जाएगा। चाहे वो एनडीए गठबंधन के ही क्यों न हों।'

हजारी ने कहा, '5, दशरथ मार्ग बंगला को उप मुख्यमंत्री का हमेशा के लिये आधिकारिक बंगला के तौर पर अलॉट कर दिया जाएगा। साथ ही 1 पोलो रोड को विपक्ष के नेता के लिये अलॉट कर दिया जाएगा। पोलो रोड स्थित बंगला में ही अब तेजस्वी यादव को शिफ्ट करना होगा।'

और पढ़ें: तेजस्वी ने नीतीश को लिखा खत, 5 देशरत्न मार्ग बंगले की मांग की

इस आदेश के आने के बाद हाल ही तेजस्वी यादव ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर निवेदन किया था कि उन्हें उप मुख्यमंत्री के तौर पर इस्तमाल कर रहे बंगले में ही रहने दिया जाए।

तेजस्वी यादव के निवेदन पर नीतीश कुमार ने कहा था, 'किसी को भी सरकार की तरफ से मिल रही सुविधाओं से जुड़ाव नहीं होना चाहिये। आज मैं सत्ता में हूं, लेकिन ये हमेशा के लिये नहीं है।' 

आजेडी ने नीतीश सरकार के इस फैसले पर कड़ा विरोध व्यक्त किया है। पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा, 'जब सुशील मोदी उप मुख्यमंत्री नहीं रहे थे और विपक्ष के नेता बने तो उन्हें पोलो रोड स्थित बंगला में रहने दिया गया था।'

और पढ़ें: अस्त्र मिसाइल का सफल परीक्षण, IAF में जल्द होगा शामिल

उन्होंने कहा, 'तेजस्वी यादव के साथ भी ऐसा क्यों नहीं किया जा सकता है?' उन्होंने कहा कि सरकार बदले की भावना से काम कर रही है और उसी के तहत यये फैसला लिया गया है। 

और पढ़ें: चीन ने कहा, पूर्वोत्तर के विवादित क्षेत्र में विदेशी निवेश मंजूर नहीं

RELATED TAG: Nitish Kumar, Tejashwi Prasad Yadav, Sushil Modi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो