Breaking
  • गुजरात की 182 और हिमाचल की 68 सीटों पर वोटों की गिनती शुरू
  • दिल्ली: कोहरे और धुंध के चलते 15 ट्रेन लेट और 12 कैंसिल हुईं

मैगी के सैंपल फेल होने पर नेस्ले इंडिया की सफाई, कहा- नूडल्स में राख के अवयव नहीं

  |  Updated On : November 30, 2017 05:17 PM
 मैगी (फाइल फोटो)

मैगी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :  

नेस्ले इंडिया ने शाहजहांपुर में मैगी के सैंपल के जांच में फेल होने और जिला प्रशासन द्वारा जुर्माना लगाए जाने के बाद अपनी सफाई दी है इस मामले पर एफएमसीजी कंपनी नेस्ले ने कहा है कि मैगी को बनाने की प्रक्रिया में किसी भी स्तर पर राख का इस्तेमाल नहीं किया जाता और यह 100 फीसदी सुरक्षित है।

नेस्ले इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, 'हम अपने उपभोक्ताओं को दोबारा आश्वस्त करना चाहते हैं कि मैगी नूडल्स 100 फीसदी सुरक्षित हैं। हम दृढ़ता से दोहराते हैं कि इसे बनाने की प्रक्रिया में कहीं भी राख का इस्तेमाल नहीं किया जाता।'

उन्होंने बताया कि उनका नूडल्स ब्रांड नूडल्स, पास्ता और मसालों के लिए भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) द्वारा तय मानकों के अनुरूप है।

और पढ़ें: चंडीगढ़ गैंगरेप पीड़िता पर बयान के बाद विवादों में घिरी किरण खेर, कहा- राजनीति हो रही है

गौरतलब है कि जून 2015 में नेस्ले इंडिया ने एफएसएसएआई द्वारा मैगी पर बैन लगाने के बाद मैगी को बाजार से वापस ले लिया था। हालांकि कई कानूनी लड़ाइयों के बाद नवंबर 2015 में मैगी नूडल्स को बाजार में फिर से उतारा गया था।

मैगी सैम्पल फेल होने पर 45 लाख का जुर्माना नेस्ले कम्पनी पर लगाया गया है जबकि डिस्ट्रीब्यूटर समेत छ विक्रेताओं समेत पर 17 लाख का जुर्माना लगाया गया है।

और पढ़ें: संदिग्ध की तलाश में देवबंद में एटीएस की छापेमारी

RELATED TAG: Maggi, Nestle India,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो