संविधान में संशोधन करके दिया जा सकता है मराठा समुदाय को आरक्षण : शरद पवार

नेशनल कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार भी अब मराठा आरक्षण के समर्थन में उतर आए हैं।

  |   Updated On : July 28, 2018 09:48 PM
एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार (फाइल फोटो)

एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

नेशनल कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार भी अब मराठा आरक्षण के समर्थन में उतर आए हैं। शनिवार (28 जुलाई) को उन्होंने कहा कि मराठा समुदाय के लिए आरक्षण संविधान में संशोधन से लाया जा सकता है।

शरद पवार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, 'यदि केंद्र तैयार हो और अपनी इच्छा दिखाए तो मैं ऐसे संशोधन का समर्थन करने के लिए विपक्षी दलों से बात कर सकता हूं।'

उन्होंने आगे कहा, 'जब एनसीपी सत्ता में थी तो उसने मराठाओं को आरक्षण प्रदान करने के लिए एक फैसला किया था लेकिन अदालत ने उसे खारिज कर दिया था।

और पढ़ें : महाराष्ट्र: मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, मराठा आरक्षण पर होगी चर्चा

इसके साथ ही एनसीपी अध्यक्ष ने सीएम देवेंद्र फडणवीस और राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल को निशाने पर लिया। उन्हें चेतावनी देते हुए कहा कि वह यह दावा करके आग में घी डालने का काम नहीं करें कि कुछ लोग मराठा आंदोलन के नाम पर राज्य में शांति भंग करना चाहते हैं।

शरद पावर ने कहा, 'यदि फडणवीस या पाटिल के पास लोगों द्वारा (मराठा आरक्षण आंदोलन की आड़ में) गड़बड़ी उत्पन्न करने के बारे में बात करने की रिकार्डिंग हो तो उन्हें वह रिकार्डिंग सार्वजनिक कर देनी चाहिए।'

बता दें कि राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल को दावा किया था कि सरकार के पास एक ऑडियो क्लिप है जिसमें कुछ ‘बड़े नेता’ 23 जुलाई को पंढरपुर में एकत्रित हुए श्रद्धालुओं के बीच कथित रूप से सांप छोड़ने का षड्यंत्र रच रहे हैं। फडणवीस ने पहले यही आरोप लगाया था।

उन्होंने पाटिल पर वार करते हुए कहा,' मंत्री को उनकी आलोचना करते समय जिम्मेदारी से काम लेना चाहिए। पाटिल को याद रखना चाहिए कि मैं 14 बार आम चुनाव सफलतापूर्वक लड़ा हूं, जबकि वो एक बार भी कोई आम चुनाव नहीं लड़ें हैं।'

इसके साथ ही शरद पवार मराठा समुदाय के उन प्रतिनिधियों से भी मुलाकात की जो आरक्षण की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन विरोध पर बैठे हैं।

वहीं, लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर शरद पावर ने घोषणा कि एनसीपी और कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ेंगे। सीट शेयरिंग पर उन्होंने कहा कि मॉनसून सत्र के बाद इसपर चर्चा की जाएगी।

उन्होंने बताया, 'मल्लिकार्जुन खड़गे और अशोक गहलोत कांग्रेस का प्रतिनिधित्व करेंगे जबकि एनसीपी का प्रतिनिधित्व जयंत पाटिल और प्रफुल्ल पटेल करेंगे।'

और पढ़ें : पंकजा पर शिवसेना का हमला, कहा- फडणवीस एक घंटे के लिए बनाए सीएम ताकि पास हो मराठा आरक्षण बिल

First Published: Saturday, July 28, 2018 09:43 PM

RELATED TAG: Maratha Reservation, Sharad Pawar, Ncp, Maharashtra Chief Minister Devendra Fadnavis, Revenue Minister Chandrakant Patil, Congress, Loksabha Election 2019,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो