पीएम नरेंद्र मोदी आज स्वीडन और ब्रिटेन की यात्रा पर होंगे रवाना, निवेश और स्वच्छ ऊर्जा पर जोर

  |   Updated On : April 16, 2018 02:16 PM

नई दिल्ली :  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज स्वीडन और ब्रिटेन की यात्रा पर रवाना होंगे। वहां की यात्रा से पहले प्रधानमंत्री ने ने कहा है कि व्यापार, निवेश और स्वच्छ ऊर्जा समेत दूसरे क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय साझेदारी को मज़बूत करने को लेकर आशान्वित हैं।

प्रधानमंत्री स्वीडन और ब्रिटेन की पांच दिवसीय यात्रा पर जा रहे हैं। वापसी के दौरान 20 अप्रैल को वो बर्लिन में कुछ देर के लिए रुकेंगे।

अपनी यात्रा के पहले चरण में पीएम मोदी स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम जाएंगे और वहां के प्रधानमंत्री प्रधानमंत्री स्टेफान लोफवेन से व्यापक चर्चा करेंगे। साथ ही भारत नोर्डिक सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।

उन्होंने फेसबुक पोस्ट पर लिखा, ‘भारत और स्वीडन के बीच दोस्ताना संबंध है। हमारी साझेदारी लोकतांत्रिक मूल्यों और खुले, समावेशी एवं नियम आधारित बुनियाद पर टिकी वैश्विक व्यवस्था के प्रति कटिबद्धता है। स्वीडन हमारे विकास में एक मूल्यवान साझेदार है।’

और पढ़ें: सीरिया पर अमेरिकी हमले के खिलाफ बगदाद में व्यापक विरोध प्रदर्शन

दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच मंगलवार को द्विपक्षीय वार्ता होगी।

पीएम मोदी ने कहा कि लोफवेन और वो दोनों देशों के शीर्ष कारोबारी नेताओं से बातचीत करेंगे और व्यापार एवं निवेश, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, स्वच्छ ऊर्जा एवं स्मार्ट सिटी जैसे क्षेत्रों में सहयोग को लेकर खाका तैयार करेंगे।

उन्होंने कहा कि वो स्वीडन के राजा कार्ल सोलहवें गुस्ताफ से भी मिलेंगे।

भारत और स्वीडन मिलकर मंगलवार को स्टॉकहोम में भारत नोर्डिक सम्मेलन भी आयोजित करेंगे। जिसमें फिनलैंड , नार्वे, डेनमार्क और आईसलैंड के प्रधानमंत्रियों के हिस्सा लेने का कार्यक्रम है।

पीएम मोदी ने कहा, ‘स्वच्छ प्रौद्योगिकी, पर्यावरण समाधान, बंदरगाह आधुनिकीकरण, कोल्ड चेन, कौशल विकास और नवोन्मेष में नोर्डिक देशों की ताकत का लोहा विश्व मानती है। नोर्डिक क्षमता भारत के परिवर्तन के हमारे विज़न में सटीक बैठती है।’

स्वीडन से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ब्रिटेन जाएंगे। कॉमनवेल्थ हेड्स ऑफ गवर्नमेंट की बैठक में हिस्सा लेंगे। इसके अलावा वो ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे से द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे।

पीएम मोदी ने कहा, ‘लंदन की मेरी यात्रा दोनों देशों को इस बढ़ती द्विपक्षीय साझेदारी में एक नयी गति पैदा करने का एक मौका प्रदान करती है। मैं स्वास्थ्य, नवोन्मेष, डिजिटलाइज़ेशन, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी, स्वच्छ ऊर्जा और साइबर सुरक्षा के क्षेत्रों में भारत ब्रिटेन साझेदारी बढ़ाने पर जोर दूंगा।’

उन्होंने बताया कि वो वहां की महारानी से भी मिलेंगे। साथ ही दोनों देशों के औद्योगिक घरानों को सीईओ से भी मिलेंगे।

और पढ़ें: गुंडू राव बोले, योगी आदित्यनाथ को चप्पल से पीटो, बाद में जताया खेद

RELATED TAG: Sweden, Uk, Pm Narendra Modi, Theresa May, Germany,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो