Breaking
  • टेरर फंडिंग केस: सैयद अली शाह गिलानी के बेटों नईम गिलानी और नसीम गिलानी को एनआईए ने समन भेजा
  • सुप्रीम कोर्ट ने आय से अधिक संपत्ति मामले में AIADMK नेता वी.के शशिकला की पुनर्विचार याचिका खारिज की
  • अशोक कुमार मित्तल के इस्तीफे के बाद अश्विनी लोहानी को बनाया गया रेलवे बोर्ड का नया चेयरमैन- ANI
  • निजता का अधिकार मौलिक अधिकार है या नहीं, गुरुवार को आएगा SC का फैसला
  • रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने की इस्तीफे की पेशकश, PM बोले- इंतजार करें -Read More »
  • रेल हादसों के बाद रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने इस्तीफे की पेशकश की

ईवीएम विवाद: चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को 3 जून को दी हैकिंग की चुनौती

By   |  Updated On : May 20, 2017 04:01 PM
ईवीएम विवाद (फाइल फोटो)

ईवीएम विवाद (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर राजनीतिक दलों की आशंकाओं को दूर करने के लिये चुनाव आयोग ने शनिवार को EVM और VVPAT का लाइव डेमो दिया। इसके साथ ही चुनाव आयोग ने सवाल उठाने वाले दलों को 3 जून को हैकिंग की चुनौती दी है।

राजनीतिक दलों ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के दौरान ईवीएम में छेड़छाड़ की शिकायत की थी और मांग की थी कि चुनाव आयोग भविष्य में होने वाले सभी चुनावों को बैलट पेपर से कराए।

चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों की आशंकाओं को निराधार बताया था और 12 मई को सर्वदलीय बैठक कर सभी राजनीतिक दलों को ईवीएम से छेड़छाड़ करने की औपचारिक तौर पर खुली चुनौती दी थी।

बीजेपी को छोड़कर लगभग सभी विपक्षी दलों ने दावा किया था कि ईवीएम से लोगों का भरोसा उठ गया है।

इस सर्वदलीय बैठक में मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने पार्टियों को चुनौती देते हुए कहा था कि राजनीतिक दल सिद्ध करके दिखाएं कि एडवांस्ड तकनीकी एवं प्रशासनिक सुरक्षा इंतजाम के बावजूद ईवीएम के साथ छेड़छाड़ कैसे की जा सकती है।

और पढ़ें: यूपी में 74 IAS का हुआ तबादला, गोयल बने योगी आदित्यनाथ के प्रमुख सचिव

उन्होंने कहा था, ‘हालांकि ईवीएम के साथ वीवीपीएटी का इस्तेमाल पूरी पारदर्शिता और विश्वसनीयता सुनिश्चित करेगी लेकिन विवाद को समाप्त करने के लिए आयोग चुनौती पेश करेगा।’

बैठक में मौजूद बीजेपी, माकपा, भाकपा ,अन्नाद्रमुक, द्रमुक सहित अनेक पार्टियों ने वीवीपीएटी मशीन से जुड़ी ईवीएम के इस्तेमाल का खुला समर्थन किया था। लेकिन बीएसपी, आप, तृणमूल कांग्रेस ने मतपत्रों के जरिए मतदान के पुराने तरीके को ज्यादा बेहतर और पारदर्शी बताया।

और पढ़ें: योगी आदित्यनाथ बोले, अगर RSS नहीं होता तो बंगाल, पंजाब और कश्मीर पाकिस्तान के कब्जे में होता

चुनाव आयुक्त ने कहा था कि आपको इस बात से सहमत होना चाहिए कि कोई भी दल चुनाव आयोग का पसंदीदा नहीं है, हम सभी पार्टियों और समूहों से समान दूरी बना कर रखते हैं।

और पढ़ें: क्या जाकिर नाइक को सऊदी की नागरिकता मिल गई है?

आईपीएल 10 की हर बड़ी खबर के लिए यहां क्लिक करें

RELATED TAG: Election Commission, Electronic Voting Machines, Evm, Hackathon,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो