Breaking
  • जम्मू-कश्मीर के त्राल में मृत पाया गया जैश-ए-मोहम्मद का एक आतंकी, पाकिस्तानी नागरिक के रूप में हुई
  • कांग्रेस में बतौर अध्यक्ष आज होगी राहुल गांधी की ताजपोशी

Exclusive: न्यूज नेशन पर तीन तलाक के तीस चेहरे

  |  Updated On : May 16, 2017 10:54 PM
न्यूज नेशन पर तीन तलाक के तीस चेहरे देखें उनका दर्द

न्यूज नेशन पर तीन तलाक के तीस चेहरे देखें उनका दर्द

ख़ास बातें
  •  तीन तलाक पर इंसाफ की आवाज
  •  न्यूज नेशन के स्टूडियो में पहुंचीं तलाक पीड़िता

नई दिल्ली:  

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के बीच पीड़ित महिलाओं के मुद्दे को उठाते हुए न्यूज नेशन की टीम ने कई तलाक पीड़ित महिलाओं का दर्द एक साथ दिखाया।

न्यूज नेशन की टीम ने उन महिलाओं से बात की, जिन्हें उनके पति ने तीन तलाक दे ऱखा है। 

इसे भी पढ़ेंः कपिल सिब्बल ने कहा, राम की तरह ट्रिपल तलाक आस्था से जुड़ा मामला, कोर्ट को नहीं देना चाहिए इसमें दखल

सुप्रीम कोर्ट में इस मुद्दे पर आज चली सुनवाई के दौरान ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) के वकील और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने ट्रिपल तलाक की तुलना अयोध्या में जन्मे राम से कर डाली। सुप्रीम कोर्ट में आज चौथे दिन ट्रिपल तलाक पर सुनवाई हुई।

सिब्बल ने कहा कि ट्रिपल तलाक आस्था से जुड़ा मसला है और इसमें सुप्रीम कोर्ट को दखल नहीं देना चाहिए। सिब्बल ने कहा कि ट्रिपल तलाक आस्था से वैसे ही जुड़ा मामला है जैसे कि अगर मेरी आस्था राम में है तो मैं मानूंगा कि राम अयोध्या में पैदा हुए थे।

इसे भी पढ़ेंः सुप्रीम कोर्ट में AIMPLB ने कहा, तीन तलाक आस्था का विषय है, संवैधानिक नैतिकता का नहीं

सिब्बल ने कहा, 'अगर उस पर सवाल नहीं तो तीन तलाक पर क्यों?' उन्होंने दलील दी कि हम यह नहीं कह रहे ट्रिपल तलाक कोई अच्छी परंपरा है और उसे हमेशा के लिए जारी रखना चाहिए। हम बदलाव चाहते हैं लेकिन हमारा मानना है कि बदलाव के लिए किसी को बाध्य नहीं किया जाना चाहिए। किसी दूसरे को इसमें दखल देने से बचना चाहिए।'

RELATED TAG: Triple Talaq, Supreme Court,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो