सोनिया के 'डिनर डिप्लोमेसी' में बोले तेजस्वी यादव- तानाशाह सरकार को उखाड़कर फेंकना है

  |   Updated On : March 13, 2018 11:35 PM

नई दिल्ली:  

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी और पीएम मोदी के विजय रथ को रोकने के लिए मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने कवायद शुरू कर दी है। मोदी सरकार के इसी घेराबंदी के तहत आज कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली में विपक्षी दलों को एकजुट करने के लिए डिनर का आयोजन किया है।

डिनर के बाद आरजेडी नेता और लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने कहा, यह तो बस अभी शुरुआत है और इस तानाशाह सरकार को उखाड़कर फेंकना है।

इन 20 पार्टियों के नेताओं ने सोनिया के डिनर में की शिरकत

इस डिनर में करीब अलग-अलग 18 राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने शिरकत की है। इस डिनर डिप्लोमेसी में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, जेडीए नेता उपेंद्र रेड्डी, आरएसपी नेता प्रेम चंदन, जेवीएम नेता बाबू लाल मरांडी, सीपीएम नेता मोहम्मद सलीम, सीपीआई नेता डी राजा और डीएमके से कनिमोझी, हिन्दुस्तान आवाम मोर्चा के नेता जीतन राम मांझी, समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव और एनसीपी नेता शरद पवार, तारिक अनवर, नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला, झारखंड मुक्ति मोर्चा के हेमंत सोरेन, रालोद नेता अजित सिंह, बीएसपी से सतीश मिश्रा, जेवीएम से बाबूलाम मरांडी और आरएसपी से रामचंद शामिल हुए।

सोनिया गांधी ने ऐसे वक्त में इस डिनर का आयोजन किया है, जब एनडीए में गठबंधन को लेकर कई दलों ने अपनी नाराजगी को सार्वजनिक तौर पर जाहिर किया है।

हाल ही में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीनत राम मांझी ने खुद को एनडीए से अलग करने का फैसला लिया है। वहीं आंध्र प्रदेश की तेलुगू देशम पार्टी राज्य के विशेष दर्जे की मांग को लेकर खुद को सरकार से अलग कर चुकी है। हालांकि पार्टी ने अभी तक अपने आप को एनडीए से अलग नहीं किया है।

जीतन राम मांझी और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार का इस डिनर पार्टी में शामिल होना खास रहा। कुछ दिनों पहले ही जीतन राम मांझी की पार्टी ने एनडीए से अपना नाता तोड़कर लालू यादव की पार्टी आरजेडी के साथ जाने का फैसला किया था।

डिनर से विपक्षी नेताओं में बढ़ी नजदीकियां- राहुल

इस डिनर के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'इस डिनर में विपक्ष के नताओं को आपस में मुलाकात का मौका मिला, इस डिनर से इन नेताओं के बीच नजदीकियां बढ़ी है।'

राहुल ने आगे लिखा, इस डिनर के दौरान काफी राजनीतिक बातें हुईं लेकिन इससे महत्वपूर्ण यहां सकारात्म उर्जा, गर्मजोशी और सच्ची दोस्ती का लगाव देखने को मिला।

तानाशाह सरकार को हटाना है: तेजस्वी यादव

डिनर के बाद आरजेडी नेता और लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने कहा, यह एक दोस्तान बैठक थी और इसमें संविधान को बचाने के लिए चर्चा की गई। उन्होंने कहा केंद्र में इस समय तानाशाह सरकार और हम इस सरकार को हटाना चाहते हैं। एनडीए में शामिल कोई भी दल इस सरकार से खुश नहीं है और येह बैठक तो बस अभी शुरुआत है।

RELATED TAG: Sonia Dinner Diplomacy, Mamta, Pawar, Consent,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो