Breaking
  • राहुल बोले, भारत में असहिष्णुता से विदेशों में छवि बिगड़ी, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • पाकिस्तान ने कहा, भारत से निपटने के लिए कम दूरी के परमाणु हथियार तैयार, पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • बेंगलुरू: आयकर विभाग ने कर्नाटक के पूर्व सीएम एसएम कृष्णा के दामाद के ठिकानों पर मारा छापा

जस्टिस कर्णन ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर की

By   |  Updated On : May 19, 2017 12:02 AM
जस्टिस कर्णन (फाइल फोटो)

जस्टिस कर्णन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

कोलकाता हाई कोर्ट के जज जस्टिस सी एस कर्णन ने सुप्रीम कोर्ट के दिए सजा के खिलाफ राष्ट्रपति के पास दया याचिका दाखिल की है। जस्टिस कर्णन को सुप्रीम कोर्ट के अवमानना के मामले में 6 महीने की सजा सुनाई गई है।

कर्णन के सलाहकार रमेश कुमार ने बताया दया याचिका बुधवार को राष्ट्रपति के पास दायर की गई है। ये याचिका आर्टिकल 72 1बी के तहत दायर की गई है।

याचिका में दलील दी गई है कि जस्टिस कर्णन जून में रिटायर हो रहे हैं। ऐसे में अगर उन्हें सजा मिलती है तो रिटायर होने के बाद जो उन्हें वित्तीय लाभ मिलेंगे उसमें देरी होगी जिससे उन्हें दिक्कत होगी।

जस्टिस कर्णन ने भ्रष्टाचार के एक मामले में हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के 7 जजों को 5 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने अवमानना के आरोप में उन्हें 6 महीने की सजा सुनाई थी।

ये भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट का जस्टिस कर्णन की याचिका सुनने से इनकार, अवमानना के मामले में छह महीन की सजा सुना चुका है कोर्ट

 

ये भी पढ़ें: 90 फीसदी गुड्स और सर्विसेज की GST दरों पर लगी मुहर, दूध पर नहीं लगेगा कोई टैक्स

RELATED TAG: Justice Karnan, Contempt Of Court, President, Mercy Plea,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो