जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने कहा, अमरनाथ हमले पर चीन की चुप्पी से हैरानी

By   |  Updated On : July 16, 2017 09:20 AM
महबूबा मुफ्ती ने चीन पर साधा निशाना (फाइल फोटो)

महबूबा मुफ्ती ने चीन पर साधा निशाना (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  अमरनाथ हमले पर चीन की चुप्पी से बेहद हैरानी: महबूबा मुफ्ती
  •  जम्मू-कश्मीर में कानून व्यवस्था की कोई समस्या नहीं, हिंसा के लिए बाहरी कारक जिम्मेदार

नई दिल्ली:  

जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले और राज्य में जारी हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने पड़ोसी देश पाकिस्तान और चीन पर हमला बोला है। महबूबा ने कहा, 'अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले की निंदा कई दूसरे देशों ने भी की लेकिन चीन ने इसकी निंदा नहीं की जिससे थोड़ी हैरानी होती है।'

उन्होंने कहा, 'जम्मू-कश्मीर में जो गोलीबारी का मसला है वो हमारे पड़ोसी मुल्क से होता है। पाकिस्तान में आतंकवाद के जो बड़े-बड़े लीडर है उनपर चीन की तरफ से कड़ी निंदा होनी चाहिए वो नहीं होता है। सिक्किम के सीमा विवाद में उन्होंने कश्मीर को भी बीच में लाकर खड़ा कर दिया।'

अमरनाथ यात्रियों पर हमले को लेकर महबूबा बोली, 'मेरा तो ये मानना है जम्मू-कश्मीर के जो अमरनाथ यात्रियों पर हमला हुआ उसमें सारा देश एक हो गया। जम्मू कश्मीर के लोगों ने एक होकर इस हमले की निंदा की।'

कश्मीर में लगातार हो रही हिंसा और आतंकवादी हमलों पर सीएम महबूबा मुफ्ती ने कहा, 'जम्मू कश्मीर में जो हालात हैं वो कानून व्यवस्था की समस्या नहीं है। वो एक बड़ा मसला है जिसमें एक बाहरी कारण महत्व रखता है जिसमें हमारा पड़ोसी मुल्क शामिल है। 70 साल ये चल रहा है। जब तक पूरा मुल्क इकट्ठा नहीं हो जाएगा।'

सिक्किम के डाकोला में भारत-चीन विवाद पर महबूबा ने कहा, 'जब चाइना पर बात हो रही थी तो सारी पार्टियों ने कहा हम इसमें एक साथ हैं जो भी मुल्क फैसला करेगा हम उसके साथ हैं। जम्मू कश्मीर में जो हालात हैं उसमें भी सभी पार्टियों को एक होना पड़ेगा ताकि हम जम्मू कश्मीर को इस मुसीबित से बाहर निकालें।'

ये भी पढ़ें: खत्म हुआ जेडीयू का अल्टीमेटम, बर्खास्त होंगे तेजस्वी या बना रहेगा महागठबंधन

महबूबा ने जम्मू-कश्मीर की वर्तमान हालात पर मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर किया गया हमला 'सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने' और देश में दंगा कराने के मकसद से किया गया था। हमले में सात श्रद्धालुओं की जान चली गई थी। उन्होंने ये भी कहा कि  कश्मीर में तनाव फैलाने के पीछे भी चीन का हाथ है और राज्य से धारा 370 नहीं हटाया जाएगा।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, एक जवान शहीद

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो