Breaking
  • संसद का शीतकालीन सत्र 15 दिसंबर से 5 जनवरी तक चलेगा
  • ओडिशा के जगतसिंहपुर में कोयले से भरी मालगाड़ी के 14 डिब्बे पटरी से उतरे

महबूबा मुफ्ती बोली, अमरनाथ हमले का मकसद देश में दंगा कराना

  |  Updated On : July 15, 2017 11:16 PM
जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  घाटी की सुरक्षा स्थिति को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिली जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती
  •  महबूबा ने कहा कि हाल ही में हुए अमरनाथ हमले का मकसद देश में सांप्रदायिक दंगे कराना था

नई दिल्ली :  

जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने घाटी में सुरक्षा की स्थिति पर चर्चा के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच यह मुलाकात हाल ही में अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर हुए आतंकवादी हमले के मद्देनजर हुई है।

महबूबा ने मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर किया गया हमला 'सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने' के उद्देश्य से किया गया था। हमले में सात श्रद्धालुओं की जान चली गई थी।

महबूबा ने कहा, 'हम कश्मीर में कानून और व्यवस्था की स्थिति के लिए नहीं लड़ रहे..जब तक पूरा देश और सभी राजनीतिक दल एकजुट नहीं होते, तब तक हम यह लड़ाई नहीं जीत सकते।'

महबूबा ने घाटी में अशांति के लिए 'बाहरी ताकतों' को जिम्मेदार ठहराया और 'कठिन समय में समर्थन' देने के लिए गृहमंत्री को धन्यवाद भी दिया। उन्होंने कहा, 'अब इस मामले में बाहरी ताकतें भी शामिल हैं। आतंकी आ रहे हैं और वह जम्मू-कश्मीर का माहौला बिगाड़ना चाहते हैं। दुर्भाग्यवश अब इस मामले में चीन ने भी दखल देना शुरू कर दिया है।'

जम्मू कश्मीर में हिंसा के लिए महबूबा ने चीन को ठहराया जिम्मेदार, घाटी से नहीं हटेगा आर्टिकल 370

महबूबा ने कहा, 'इस लड़ाई में बाहरी ताकतें शामिल हैं। घुसपैठ हो रही है और आतंकवादी घुस रहे हैं। वे जम्मू एवं कश्मीर का माहौल बिगड़ाने का प्रयास कर रहे हैं।' महबूबा ने कहा, 'अब दुर्भाग्य से चीन ने भी हस्तक्षेप शुरू कर दिया है।'

उन्होंने कहा, 'पूरे देश में जिस प्रकार सांप्रदायिक सद्भाव कायम था..शत्रु इस हमले के जरिए पूरे देश में सांप्रदायिक दंगे कराना चाहते थे।'

उन्होंने कहा, 'मैं अपने देश के लोगों और गृहमंत्री की आभारी हूं कि उन्होंने इस कठिन स्थिति में हमारा समर्थन किया, इस स्थिति में जिसमें बाहरी ताकतें शामिल हैं..और मैं खुश हूं कि हमारे सभी राजनीतिक दल साथ हैं।'

यह पूछे जाने पर कि क्या बैठक में अनुच्छेद 370 पर भी कोई चर्चा हुई, महबूबा ने कहा, 'जब जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) पारित हुआ, तब राष्ट्रपति ने इस बात की पुष्टि की कि अनुच्छेद 370 का ध्यान रखा जाएगा..अनुच्छेद 370 कश्मीर के लोगों की भावनाओं से जुड़ा है।'

पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, एक जवान शहीद

RELATED TAG: Mehbooba Mufti, Amarnath Attack, Communal Harmony, Jammu And Kashmir,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो