Breaking
  • यौन अपराध रोकने के लिए महिलाओं को गैजेट्स दिलाए सरकार: मद्रास HC (पढ़ें खबर) -Read More »
  • लश्कर प्रमुख हाफिज सईद ने फिर उगली आग, बोला- भारत से लेंगे पूर्वी पाकिस्तान का बदला
  • गुजरात चुनाव से पहले डरे हार्दिक, बोले- EVM पर सौ फीसदी है शक (पढ़ें खबर) -Read More »
  • जीएसटी परिषद ने ई-वे बिल को लागू करने की दी मंजूरी

जम्मू-कश्मीर: अमरनाथ हमले में शामिल लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी ढेर, एक जवान शहीद

  |  Updated On : December 05, 2017 03:31 PM
दक्षिण कश्मीर में मुठभेड़ (फाइल फोटो)

दक्षिण कश्मीर में मुठभेड़ (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच हुई मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गए। वहीं मुठभेड़ स्थल से भागने में कामयाब एक आतंकी रशीद अहमद अलेई को पुलिस ने अनंतनाग जिले के एक मैटर्निटी अस्पताल से गिरफ्तार कर लिया।

आपको बता दें मारे गए तीनों आतंकवादी इस साल अमरनाथ यात्रा पर हुए आतंकी हमले के आरोपियों में शामिल थे। इस मुठभेड़ के दौरान सेना का एक जवान शहीद हो गया, साथ ही एक अन्य जवान घायल हो गया।

पुलिस ने घटना के बाद से इलाके में किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए 2G/3G नेट सर्विसेज पर कुछ समय के लिए पाबंदी लगा दी है। यही नहीं इलाके में रेल सेवा का भी बंद कर दिया गया है।  

यह भी पढ़ें : गुजरात की तरफ बढ़ रहा 'ओखी' तूफान, अमित शाह ने रद्द की आज की रैली

पुलिस अधिकारी के मुताबिक आतंकवादियों ने दक्षिण कश्मीर के जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर काजीगंड इलाके में गश्त लगा रहे सेना के एक दल पर हमला कर दिया था।

घटना के बाद हमलावर आतंकवादी कुलगाम जिले के बोनिगाम गांव में एक बिल्डिंग में घुस गए। हमले के जवाब में सुरक्षा बलों का ऑपरेशन और तलाशी अभियान के लिए पूरे इलाके को घेर लिया गया था।

सुरक्षा बलों का ऑपरेशन और तलाशी अभियान सुबह 2 बजे समाप्त हुआ।

पुलिस ने कहा, 'मारे गए आतंकवादियों में लश्कर ए तैयबा के दो पाकिस्तानी आतंकवादी शामिल हैं, जिनकी पहचान फरकान और अबु माविया के रूप में की गई है। इनके अलावा एक स्थानीय आतंकवादी भी मारा गया है जो काजीगंड इलाके का रहने वाला था।'

यह भी पढ़ें : अयोध्या विवाद मामले में आज से सुप्रीम कोर्ट में होगी अहम सुनवाई

पुलिस ने कहा, 'एक अन्य स्थानीय आतंकवादी राशिद अली, जो फरार होने में कामयाब रहा था, उसे अनंतनाग कस्बे से गिरफ्तार कर लिया गया। उसके हाथ में चोट लगी थी, जिसके इलाज के लिए वह अनंतनाग गया था।'

गौरतलब है कि इस साल जुलाई में अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर हमले का नेतृत्व करने वाले अबू इस्माइल की मौत के बाद फरकान ने दक्षिण कश्मीर में लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख के रूप में कार्यभार संभाला था।

पुलिस ने कहा, '10 जुलाई को यात्रियों पर हमले में शामिल तीनों आतंकियों की मौत हो गई है।'

इस हमले में आठ तीर्थयात्रियों की मौत हो गई और 19 अन्य घायल हो गए थे।

और पढ़ेंः राष्ट्रधर्म के प्रति जिम्मेदारियां निभाने से खत्म होगा आतंकवाद: योगी आदित्यनाथ

RELATED TAG: Jammu Kashmir, Attack On Amarnath Pilgrims, Terrorist Attack,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो