Breaking
  • जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान ने उरी सेक्टर में किया सीजफायर का उल्लंघन, भारी गोलीबारी जारी
  • प्रिया प्रकाश ने तेलंगाना में अपनी फिल्म के खिलाफ दर्ज मामले पर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की
  • नीरव मोदी केस: लखनऊ, नोएडा और गाजियाबाद में ईडी के छापे
  • मैसूर से उदयपुर तक चलने वाली पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रेस को पीएम मोदी ने दिखाई हरी झंडी
  • रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी हिरासत में, CBI और ED ने केस दर्ज किया
  • UP: उपचुनावों के लिए BJP ने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की, गोरखपुर से उपेंद्र शुक्ला लड़ेंगे चुनाव
  • रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी के खिलाफ CBI ने दर्ज किया केस, छापेमारी शुरू

हार्दिक पटेल को झटका, करीबी दिनेश बामनिया ने PAAS से दिया इस्तीफा

  |  Updated On : December 08, 2017 09:42 PM
दिनेश बामनिया (फाइल फोटो)

दिनेश बामनिया (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  हार्दिक पटेल के करीबी नेता और PAAS के संयोजक दिनेश बामनिया ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है
  •   बामनिया का इस्तीफा हार्दिक पटेल के  लिए झटका माना जा रहा है 

 

नई दिल्ली:  

हार्दिक पटेल के करीबी नेता और पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के संयोजक दिनेश बामनिया ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

बामनिया का इस्तीफा हार्दिक पटेल के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। 

हाल ही में कांग्रेस के साथ हुए चुनावी करार के दौरान टिकट बंटवारे को लेकर बामनिया ने हार्दिक पटेल की रणनीति पर सवाल उठाए थे और कांग्रेस के खिलाफ प्रदर्शन भी किया था।

इस विरोध के बाद से ही हार्दिक पटेल और बामनिया के बीच संबंधों में खटास आ गई थी।

बामनिया का आरोप है कि कांग्रेस ने पाटीदारों को ओबीसी कोटे में शामिल करने के वादे को घोषणा पत्र में शामिल नहीं किया। इसके साथ ही उन्होंने सीडी कांड को लेकर हार्दिक पर भी सवाल उठाए।

पिछले कुछ दिनों से हार्दिक पटेल का साथ छोड़ने वाले नेताओं की फेहरिस्त लगातार लंबी होती जा रही है। बामनिया से पहले हार्दिक पटेल के करीबी केतन पटेल, चिराग पटेल, वरुण पटेल और रेशमा पटेल, हार्दिक का साथ छोड़ चुके हैं।

और पढ़ें: कुलभूषण जाधव से मिलने 25 दिसंबर को जाएंगी मां और पत्नी

गौरतलब है कि पटेल आंदोलन के दौरान हुई हिंसा को लेकर हार्दिक पटेल के साथ ही दिनेश बामनिया के खिलाफ भी देशद्रोह का केस चल रहा है। बामनिया हार्दिक पटेल के कोर कमेटी के सदस्य रहे हैं।

हार्दिक पटेल ने उन्हें कांग्रेस के साथ बातचीत करने और टिकटों के बंटवारे पर फैसला लेने के लिये पूरी छूट दे रखी थी। बामनिया के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही हैं। 

बामनिया के गुजरात विधानसभा के पहले चरण के चुनाव से ठीक पहले इस्तीफा दिया है। गुजरात की 182 विधानसभा सीटों के लिए 9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में चुनाव होने हैं।

और पढ़ें: कांग्रेस को हुए नुकसान के लिए दंड भुगतने को तैयार: मणिशंकर अय्यर

RELATED TAG: Gujarat Electiosn 2017, Hardik Patel, Dinesh Bambhaniya, Paas,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो