मजुफ्फरपुर कांड पर राबड़ी देवी ने सीएम नीतीश कुमार से मांगा इस्तीफा, पूछा अब तक अंतरात्मा सोयी हुई क्यों है ?

  |   Updated On : August 10, 2018 08:57 PM
बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी (फाइल फोटो)

बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में 34 लड़कियों से यौन शोषण के मामले में बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी ने सीएम नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग की है।

राबड़ी देवी ने आरोप लगाया कि मुजफ्फरपुर में जो हुआ है उसमें कई बड़े लोग शामिल हैं जिन्हें नीतीश सरकार बचा रही है। उन्होंने कहा, 'इस घटना से पूरा राज्य शर्मसार हुआ है इसलिए पहले उन्हें इस्तीफा देना चाहिए फिर मंजू वर्मा का इस्तीफा लेना चाहिए था।'

राबड़ी देवी यहीं नहीं रुकी और नीतीश कुमार पर इस घटना के लिए गुस्सा जाहिर करते हुए कहा, '34 बेटियों के साथ जो हुआ वो बिहार का दुर्भाग्य है लेकिन अभी सीएम नीतीश कुमार की अंतरात्मा सोयी हुई है।' राबड़ी देवी ने कहा कि अब बाहर की महिलाएं और बेटियां बिहार आने से डरने लगी हैं इसलिए इस सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए।

बालिका गृह में रह रही लड़कियों से यौन शोषण के मामले में की सीबीआई जांच पर शक जाहिर करते हुए पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने कहा, 'मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए निष्पक्ष जांच और सच्चाई का बाहर आना संभव नहीं है। पता नहीं सीबीआई किस दबाव में है लेकिन उन्हें देश और राज्य की जनता के साथ इंसाफ करना होगा। उन्होंने सृजन घोटाले में सीबीआई के अभी तक जांच में सफलता नहीं मिलने पर भी सवाल उठाए और कहा कि इस जांच का भी वैसा ही हाल न हो जाए।'

मंत्री मंजू वर्मा की जा चुकी है कुर्सी

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस मामले में समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के पति के संबंध मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर से सामने आने के बाद बुधवार को दबाव बढ़ जाने पर जेडीयू की समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने इस्तीफा दे दिया था। मुख्यमंत्री आवास जा कर मंजू वर्मा ने सीएम को इस्तीफा सौंपा था। दरअसल बुधवार को जांच में यह बात सामने आई थी कि बालिका आश्रय गृह में रहने वाली 34 नाबालिग बच्चियों के साथ यौन उत्पीडऩ के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के साथ मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा लगातार संपर्क में थे। हालांकि मंजू वर्मा ने सीबीआई पर सही तरीके से जांच नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा था कि कुछ लोगों को बचाने की कोशिश की जा रही है।

और पढ़ें: मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप मामले में जेडीयू मंत्री मंजू वर्मा ने दिया इस्तीफा

घटना कैसे हुई उजागर

गौरतलब है कि इस मामले का खुलासा तब हुआ जब मुंबई की संस्था टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइसेंस की टीम ने बालिका गृह के सोशल ऑडिट रिपोर्ट में यौन शोषण का उल्लेख किया। इसके बाद मुजफ्फरपुर महिला थाने में इस मामले की प्राथमिकी दर्ज कराई गई।

और पढ़ें: बालिका गृह रेप कांड: साज़िशन फंसाया जा रहा है मुझे- ब्रजेश ठाकुर

शेल्टर होम में रही रही लड़कियों के चिकित्सकीय जांच में भी यहां की 41 लड़कियों में से 29 लड़कियों के साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हुई थी। इस मामले में अब तक मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर सहित 10 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

RELATED TAG: Muzaffarpur Shelter Home Rape Case, Nitish Kumar,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो