गोमती रिवरफ्रंट मामले में पुलिस ने आठ इंजीनियरों के खिलाफ FIR

By   |  Updated On : June 20, 2017 02:54 PM
गोमती रिवरफ्रंट और योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

गोमती रिवरफ्रंट और योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  गोमती रिवरफ्रंट मामले में पुलिस ने आठ इंजीनियरों पर दर्ज की FIR
  •  योगी आदित्यनाथ ने गोमती रिवरफ्रंट मामले में दिये थे CBI जांच के आदेश

नई दिल्ली:  

गोमती रिवरफ्रंट योजना में कथित घोटाले को लेकर आठ इंजीनियरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया, 'रिवरफ्रंट मामले में सिंचाई विभाग के आठ इंजीनियरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।'

सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को झटका देते हुए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने गोमती रिवरफ्रंट प्रोजेक्ट की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी थी। अखिलेश सरकार की कई महत्वपूर्ण योजनाएं योगी सरकार के निशाने पर रही है।

गोमती रिवरफ्रंट अखिलेश सरकार की महत्वपूर्ण परियोजनाओं में शामिल रही है। मार्च 2015 में शुरू हुई इस परियोजना का बजट 1513 करोड़ रुपये है।

अखिलेश सरकार के कार्यकाल में अब तक 1437 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके हैं। हालांकि 95 फीसदी बजट खर्च होने के बावजूद रिवरफ्रंट प्रोजेक्ट का 60 फीसदी काम ही पूरा किया जा सका है।

इसे भी पढ़ेंः सपा को झटका, योगी सरकार ने दिए गोमती रिवरफ्रंट प्रोजेक्ट की सीबीआई जांच के आदेश

इससे पहले योगी शिया-सुन्नी वक्फ बोर्ड को भंग करते हुए इसमें हुए कथित घोटाले की सीबीआई जांच कराए जाने की सिफारिश कर चुके हैं।

सीबीआई जांच की सिफारिश करने के बाद राज्य सरकार शिया वक्फ बोर्ड के 6 सदस्यों को उनके पद से हटा चुकी है, जिन्हें समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान नियुक्त किया गया था।

सभी राज्यों की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे