Facebook ने मैसेंजर ऐप से इंस्टेंट आर्टिकल फीचर को हटाया

  |  Updated On : September 13, 2017 07:08 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

ख़ास बातें
  •  फेसबुक ने इंस्टेंट आर्टिकल फीचर को मैसेंजर से हटाया
  •  इंस्टेंट आर्टिकल फीचर 2015 में हुआ था लॉन्च

 

नई दिल्ली:  

फेसबुक ने फास्ट-लोडिंग इंस्टेंट आर्टिकल को मोबाइल के लिए बने मैसेंजर एप से हटा दिया है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यह फीचर फेसबुक कोर एप के न्यूज फीड में चलाने के लिए तैयार किया गया था और कंपनी ऐसा करना जारी रखेगी।

फेसबुक के एक प्रवक्ता ने कहा, 'लोगों और प्रकाशकों पर ज्यादा प्रभाव डालने के लिए हम इंस्टेंट आर्टिकल की समीक्षा और सुधार कर रहे हैं, हम फेसबुक कोर एप में इंस्टेंट आर्टिकल के निवेश पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं और मैसेंजर में इंस्टेंट आर्टिकल नहीं दे रहे हैं।'

इंस्टेंट आर्टिकल, 2015 में लॉन्च किया गया एक लेख प्रारूप था जिसे मोबाइल वेब की तुलना में फेसबुक कोर एप में पेज लोड करने की गति को दस गुना तक बढ़ाया गया था और बाद में इसे मैसेंजर में डाला गया था।

ये भी पढ़ें: दाउद इब्राहिम पर ब्रिटेन में कसा शिकंजा, 4 हजार करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त

मुद्रीकरण की कमी की वजह से प्लेटफार्म से कई हाई प्रोफाइल प्रकाशन और प्रकाशकों ने अपने हाथ वापस खींच लिए या पहली बार में इंस्टेंट आर्टिकल में शामिल नहीं हुए। इस प्रारूप के साथ ट्रैफिक की रिपोर्टिग में भी समस्याएं आ रही हैं।

फेसबुक ने पुष्टि की है कि वह भुगतान-सामग्री मॉडल पर प्रकाशकों के साथ सहयोग कर रही है जिसका इस वर्ष के अंत में परीक्षण शुरू कर दिया जाएगा। नया मॉडल फेसबुक के मोबाइल एप से पाठकों को सीधे सदस्यता लेने और भुगतान करने की अनुमति देगा।

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी के 'वंशवाद' बयान पर भड़के ऋषि कपूर, ट्विटर पर निकाली भड़ास

RELATED TAG: Facebook, Instant Articles, Facebook Messenger,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो