हुर्रियत ने कहा, गिलानी को ED का नोटिस पक्षपातपूर्ण

  |   Updated On : December 18, 2017 08:29 AM

नई दिल्ली:  

हुर्रियत ने कहा है कि सैयद अली शाह गिलानी को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का नोटिस पक्षपातपूर्ण और गलत है।

ईडे ने 13 दिसंबर को सैयद अली शाह गिलानी को नोटिस भेजकर सोमवार को पेश होने के लिये कहा था। 2002 में उन पर 10,000 अमेरिकी डॉलर अवैध तरीके से रखा था जो फेरा कानून का उल्लंघन है।

हुर्रियत कांफ्रेंस ने एख बयान जारी कर कहा है, 'गिलानी को भेजा गया नोटिस पक्षपातपूर्ण और गलत है। भारतीय प्रशासन ने लोकतांत्रिक, संवैधानिक और नैतिकता की सीमा को पार कर दिया है।'

गिलानी के वकीलों ने 2002 में आयकर विभाग ने गिलानी और उनके करीबी रिश्तेदारों के घर पर छापा मारा था। जिसमें किसी भी तरह की आपत्तिजनक वस्तु या रकम नहीं मिली थी।

और पढ़ें: कांग्रेस को मजबूत करने के लिए लोकतांत्रिक बदलाव लाएंगे: राहुल

RELATED TAG: Jammu Kashmir, Ed Notice To Geelani, Ed Notice Unrealistic, Hurriyat Conference,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो