Breaking
  • ओमान चांडी को आंध्र प्रदेश का कांग्रेस प्रभारी नियुक्त किया गया, दिग्विजय सिंह की जगह लेंगे
  • पीएम मोदी 44वीं बार करेंगे मन की बात, छात्रों को दिखाएंगे रास्ता पढ़ें पूरी खबर -Read More »
  • पीएम मोदी दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर करेंगे रोड शो, सोलर पावर से लैस हाईवे का करेंगे उद्घाटन -Read More »

ओखी तूफान से निपटने के लिए भारतीय नौसेना ने झोकी पूरी ताकत, रक्षा मंत्री कन्याकुमारी पहुंची

  |   Updated On : December 04, 2017 12:16 AM
राहत कार्यों में जुटे जवान (फोटो: ट्विटर)

राहत कार्यों में जुटे जवान (फोटो: ट्विटर)

ख़ास बातें
  •  केरल तट पर नौसेना 8-10 जहाजों के साथ लगातार सर्च अभियान चला रही है
  •  तमिलनाडु में अब तक 690 लोगों को बचाया जा चुका है और अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है

केरल:  

केरल और तमिलनाडु में तबाही ढा रहे ओखी तूफान से निपटने के लिए भारतीय नौसेना ने पूरी ताकत लगा दी है। नौसेना ने रविवार शाम को लक्षद्वीप से 25 और केरल तट से 13 लोगों को बचाया है।

तमिलनाडु में अब तक 690 लोगों को बचाया जा चुका है। राज्य में अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है, 96 लोग लापता हैं, 63 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, 74 घर पूरी तरह से बर्बाद हो चुके हैं, जबकि 1122 घरों में भी हल्का नुकसान पहुंचा है।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण रविवार को तमिलनाडु के उपमुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम, वरिष्ठ मंत्रियों, नौसेना के अधिकारियों, कोस्टगार्ड और जिला अधिकारियों के साथ कन्याकुमारी पहुंचीं और ओखी तूफान से उपजे मौजूदा हालात का जायजा लिया।

सीतारमण ने कन्याकुमारी में स्थानीय लोगों से भी मुलाकात की और बताया कि आज सुबह 10 बजे तक 357 मछुआरों को बचा लिया गया है।

केरल के त्रिवेंद्रम में भी राहत कार्य लगातार जारी है। अब तक शहर में करीब 197 लोगों को बचाया जा चुका है, वहीं 11 लोगों की मौत हो चुकी है।

केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने बताया कि मृत मछुआरों के परिवारों को 10-10 लाख रुपये और घायलों को 20-20 हजार रुपये दिए जाएंगे। और जिन लोगों ने मछली पकड़ने वाले उपकरणों को खो दिए हैं, उन्हें भी मुआवजा दिया जाएगा।

और पढ़ें: तूफान ओखी: केरल के मछुआरा समुदाय का बचाव अभियान शुरू

आईएनएस वेनदुरुथी के अधिकारी ने बताया कि केरल तट पर नौसेना 8-10 जहाजों के साथ लगातार सर्च अभियान चला रही है।

कोच्चि में स्थित आईएनएस वेनदुरुथी के कमांडिंग ऑफिसर ने बताया, 'लक्षद्वीप में काफी नुकसान हुआ है, घरों को छत टूट गए हैं, पेड़ गिर गए हैं और नाव क्षतिग्रस्त हो गए। नौसेना उस क्षेत्र में बड़ा सर्च अभियान चला रही है।'

उन्होंने कहा कि इसके अलावा तीन अतिरिक्त जहाज मुंबई से आ रहे हैं, जिसमें लगभग 5,000 लोगों के भोजन की व्यवस्था है।

वहीं गुजरात के गिर सोमनाथ जिले के जिलाधिकारी ने कहा, 'ओखी तूफान की अगले 48 घंटे में सौराष्ट्र तट से टकराने की संभावना है और यह धीरे-धीरे कमजोर हो जाएगी।'

उन्होंने कहा, 'सभी मछुआरे को बाहर नहीं जाने की चेतावनी दी गई है और जो पहले से बाहर हैं, उन्हें जल्दी वापस लौटने को कहा गया है।'

और पढ़ें: ओखी तूफान को राष्ट्रीय आपदा घषित नहीं किया जाएगा: के जे अल्फोंस

RELATED TAG: Cyclone Ockhi, Kerala, Tamil Nadu, Okhi, Indian Navy, Rescue Operation, Nirmala Sitharaman, Kanyakumari,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS ओर Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो