कुलभूषण जाधव की फांसी पर इंटरनेशनल कोर्ट की रोक से देश भर में खुशी, सुषमा ने कहा- सभी के लिए बड़ी राहत

By   |  Updated On : May 18, 2017 05:20 PM
सुषमा स्वराज (फाइल फोटो)

सुषमा स्वराज (फाइल फोटो)

ख़ास बातें
  •  इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले के बाद रोहतगी बोले- साबित हुआ, पाकिस्तान की दलील बोगस है
  •  नरेंद्र मोदी ने की सुषमा स्वराज से बात, फैसले पर जताया संतोष
  •  अरविंद केंजरीवाल सहित मनीष तिवारी ने भी किया फैसले का स्वागत

नई दिल्ली:  

जासूसी के मामले में पाकिस्तान की सैन्य अदालत से कुलभूषण जावध को मिली फांसी पर इंटरनेशनल कोर्ट की ओर से लगाई गई रोक के बाद प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज सहित एटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने इस फैसले पर खुशी जताई है। सूत्रों के मुताबिक फैसले के तुरंत बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सुषमा स्वराज से बात की और फैसले पर संतोष जताया।

इंटरनेशनल कोर्ट में भारत की इस जीत पर एटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने कहा कि ये न केवल भारत की बल्कि मानव अधिकारों की भी बड़ी जीत है।

मुकुल रोहतगी ने साथ ही कहा कि इस फैसले ने दिखा दिया है कि पाकिस्तान की दलील बोगस है और अब मामला पूरी तरह से सुना जाएगा। भारत और जाधव का परिवार संतोष कर सकते हैं कि फिलहाल फांसी नहीं होगी। ये फैसला अगस्त तक दोनों देशों पर लागू होगा। रोहतगी ने साथ ही उम्मीद जताई कि इंटरनेशन कोर्ट के फैसले के बाद जाधव को काउंसलिंग एक्सेस मिल सकेगा।

यह भी पढ़ें: कुलभूषण जाधव मामला: इंटरनेशनल कोर्ट में कैसे एक-एक कर खारिज हुई पाकिस्तान की दलील

- वहीं, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि इंटरनेशनल कोर्ट का फैसला कुलभूषण के परिवार और देश के लोगों के लिए बड़ी राहत है। साथ ही सुषमा ने कहा, 'हम हरीश साल्वे के आभारी हैं, जिन्होंने भारत के केस को इतने प्रभावी तरीके से इंटरनेशनल कोर्ट में रखा।'

सुषमा ने विदेश मंत्रालय के अपने अधिकारियों की भी प्रशंसा की और कहा, 'मैं अपने अधिकारियों को भी इसका श्रेय देती हूं जो लगातार बिना थके इस मामले में कठिन मेहनत करते रहे।'

- गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'कुलभूषण के फांसी को रोकने का आईसीजे का फैसला भारत के लिए बड़ी राहत और संतोष की बात है।'

- दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कुलभूषण पर इंटरनेशनल कोर्ट के फैसला का स्वागत किया। केजरीवाल ने ट्वीट किया, 'पूरा देश इस समय एक साथ है और कुलभूषण की सुरक्षित रिहाई को सुनिश्चित करेगा।'

- पाकिस्तान में बंदी रहे सरबजीत की बहन दलबीर कौर ने कहा, 'यह करोड़ो भारतीयों की जीत है। मैं सरकार को इस कामयाबी पर बधाई देती हूं।' 

- कांग्रेस के मनीष तिवारी ने कहा कि सरकार को इस फैसले को कुलभूषण को वापस लाने के लिए एक हथियार की तरह इस्तेमाल करना चाहिए। मनीष तिवारी ने कहा, 'सरकार को आईसीजे का फैसला कुलभूषण को वापस लाने के लिए एक हथियार की तरह इस्तेमाल करना चाहिए। इंटरनेशनल कोर्ट ने हमारे हित में फैसला दिया है।'

यह भी पढ़ें: IPL 2017, SRH Vs KKR: नाइट राइडर्स ने सराइजर्स को 7 विकेट से हराया, फाइनल के लिए मुंबई इंडियंस से होगा मुकाबला

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो